पूर्व क्रिकेटर फारुख इंजीनियर के दावे पर भड़कीं अभिनेत्री अनुष्का शर्मा

0

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और उनकी पत्नी व बॉलिवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा ने पूर्व विकेटकीपर फारूख इंजीनियर के, चयनकर्ता द्वारा विश्व कप के दौरान उन्हें चाय परोसने के बयान पर नाराजगी व्यक्त की और करारा जवाब देते हुए कहा कि ये ‘दुर्भावनापूर्ण झूठ’ हैं।

अनुष्का शर्मा

82 वर्षीय फारूख इंजीनियर ने एक अखबार से बात करते हुए एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाले भारत के पांच सदस्यीय चयन पैनल की योग्यता का मजाक उड़ाया था जिसमें सरनदीप सिंह, जतिन परांजपे, गगन खोड़ा और देवांग गांधी शामिल है। इंजीनियर ने दावा किया था कि उन्होंने इन पांचों में से एक को इंग्लैंड में वर्ल्ड कप 2019 के दौरान अनुष्का को चाय परोसते हुए देखा था लेकिन उन्होंने किसी का भी नाम नहीं लिया था। जब पीटीआई ने संपर्क किया तो चयन पैनल के एक सदस्य ने गुस्से में इस दावे को खारिज किया और साथ ही अनुष्का ने भी लंबा बयान जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि वह अपने नाम को भारतीय क्रिकेट से संबंधित विवादों में लाने की अनुमति नहीं देंगी।

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, चयन समिति के सदस्य ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ‘विश्व कप के दौरान कोई भी चयनकर्ता बाक्स में नहीं बैठा था जहां भारतीय कप्तान की पत्नी बैठी थीं और यह बिलकुल बकवास, दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक दावा है।’ वहीं, अनुष्का शर्मा ने इससे भी ज्यादा गुस्से में बयान जारी किया। उन्होंने ट्विटर और इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया जिसमें इस मामले और उनसे जुड़े दूसरे सभी विवादित मामलों का क़रारा जवाब दिया है।

क्या लिखा अनुष्का शर्मा ने अपनी पोस्ट में 

अनुष्का शर्मा ने अपनी पोस्ट में लिखा, मनगढ़ंत और फ़र्ज़ी ख़बरों-किस्सों से कैसे निपटा जाए, इस बारे में मेरी हमेशा यही राय रही कि आप चुप रहें और आलोचकों को बोलने दें। इस बात में विश्वास रखते हुए ही मैंने अपने करियर के 11 साल पूरे किए हैं. मैंने हमेशा अपनी चुप्पी की परछाई में अपने आत्मसम्मान और सत्य को मज़बूती से खड़े पाया। लेकिन वो कहावत है ना कि बार-बार एक झूठ को दोहराया जाए तो वो सच लगने लगता है, मेरे साथ वही हो रहा है। मेरी चुप्पी की वजह से मेरे खिलाफ बोए गए झूठ सच लगने लगे हैं लेकिन आज इसका अंत होगा।

उन्होंने आगे लिखा, मैं उस वक़्त चुप रही जब कहा गया कि मेरी वजह से मेरे पति विराट कोहली का प्रदर्शन बिगड़ा। मैं उस बेबुनियाद के आरोप पर भी चुप रही जब कहा गया कि मैं भारतीय क्रिकेट से जुड़ी चीज़ों में शामिल हूं। मेरा नाम उन मनगढ़ंत किस्सों में भी शामिल किया गया जिनमें कहा गया कि मैं बंद कमरों में होने वाली क्रिकेट टीम की बैठकों में शामिल होती हूँ और टीम की सलेक्शन प्रक्रिया को प्रभावित करती रही हूं। मैं चुप रही। मेरे नाम को गलत तरीके से उन दावों में भी इस्तेमाल किया गया जिनके अनुसार इंडियन टीम के विदेशी दौरे पर मैं अपने पति के साथ तय वक़्त से ज़्यादा समय के लिए रुकी। जबकि मैंने हमेशा सारे प्रोटोकॉल फ़ॉलो किए। लोग कहते रहे, पर मैं चुप रही।
%0