‘ऐ दिल है मुश्किल’ बैन पर अनुराग कश्यप ने मोदी को लिया आड़े हाथ, कहा- पाकिस्तान यात्रा के लिए क्यों नहीं मांगी माफी?

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार से कुछ भी सवाल पूछना इस नए भाऱत में आसान नहीं है। और अगर सवाल पूछने वाला कोई व्यक्ति मुस्लिम हो तो उसे फौरन एक राष्ट्र विरोधी,जिहादी घोषित किया जाता है।

मोदी सरकार के डर और उत्पीड़न के माहौल में, फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप ने राष्ट्रवाद की आड़ में करण जौहर की ऐ दिल है मुश्किल और शाहरुख खान के रईस पर लगाए गए बैन पर मोदी की चुप्पी पर सवाल उठा कर अकल्पनीय काम किया है।

फिल्म निर्माता व निर्देशक अनुराग कश्यप ने ‘ए दिल है मुश्किल’ फिल्म पर बैन लगने पर प्रधानमंत्री मोदी पर ट्विटर पर निशाना साधा है। अनुराग कश्यप ने कहा है कि पीएम मोदी को 25 दिसंबर को पकिस्तान के लिए सॉरी बोलना चाहिए। आपका विदेशी दौरा भी हम लोग जो टैक्स देते हैं उसपर ही होता है जबकि हम लोग जो फिल्म बनाते हैं उसपर टैक्स देते हैं
cu3tqibwiaavayu

Also Read:  शिवसेना ने कहा- यूपी के तर्ज पर महाराष्ट्र के किसानों का भी कर्ज माफ करें सरकार

इस फिल्म में पाकिस्तानी एक्टर फवाद खान एक खास भूमिका में हैं जिसकी वजह से फिल्म की रिलीज पर संकट के बादल छाए हैं। कल सिनेमा ओनर्स एंड थिएटर एक्जिबिटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COEAI) ने घोषणा की थी कि वह चार राज्यों – महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और गोवा में पाकिस्तानी कलाकारों की कोई भी फिल्म नहीं दिखाएगा।

ये भी पढ़े-केआरके ने कहा- भाजपा की साजिश है करण जौहर की फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ पर लगा बैन

दरअसल, अनुराग कश्यप ने ट्विटर पर लिखा कि सर (नरेंद्र मोदी), आपने अभी तक अपने पाकिस्तानी दौरे, जो कि 25 दिसंबर को था, उसके लिए माफी नहीं मांगी है। यही वही वक्त था जब फिल्म ‘ए दिल है मुश्किल’ की शूटिंग हो रही थी। कश्यप ने अगले ट्वीट में ‘चिकन बिरयानी’ हैंडल को टैग करते हुए लिखा, ‘आपको माफी मांगनी ही चाहिए।’ उन्होंने एक और ट्वीट किया और लिखा कि मैं दरअसल मूर्ख हूं और परिस्थिति को समझना चाहता हूं। अगर आपको बुरा लगा हो तो माफ कीजिएगा।

Also Read:  मोदी लोगों को पेपर नैपकिन की तरह करते हैं इस्‍तेमालः अरुण शौरी

ये भी पढ़े-‘ऐ दिल है मुश्किल’ और ‘रईस’ की मुश्किलें बढ़ी, थिएटर मालिकों के संगठन ने पाक कलाकारों वाली फिल्म को नहीं दिखाने का फैसला किया

अनुराग कश्यप के इन्हीं ट्वीट्स पर उन्हें अशोक पंडित ने जवाब दिया। अशोक पंडित ने ट्विटर पर ही लिखा, ‘मैं आपकी कुंठा और अवसाद को समझ सकता हूं क्योंकि आपने तो नरेंद्र मोदी को पीएम के रूप में नहीं देखने के लिए एक मेमोरेंडम भी साइन किया था।’ पंडित ने लिखा, ‘पाक एक्टर्स और भारत में उनके गॉड फादर्स पर एक आम आदमी की प्रतिक्रिया पाक अभिनेताओं की चुप्पी पर है।’ उन्होंने लिखा, ‘मुझे हैरानी होगी, अगर आपको उरी हमले की निंदा का वक्त मिल जाए।’

Also Read:  दादरी में भाजपा लीडर की अगवाई में लोगों ने क़ानून की खिल्ली उड़ाई और अखिलेश यादव की पुलिस तमाशा देखती रही

बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने भी अनुराग कश्यप के सुर में सुर मिलाते हुए कहा कि ‘ऐ दिल है मुश्किल’ पर लगा बैन इस बात को दर्शाता है कि भारत में किस तरह से सिनेमा मिसगाइडिड जुनून के कारण बर्बाद हो रहा है और जो लोग तथाकथित देशभक्ति दिखाकर फिल्म को बॉयकाट करने की बात कर रहे हैं उन्होंने देश और देश के सैनिकों के लिए क्या किया?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here