अनुराग कश्यप ने ट्विटर पर की ट्रोल व फेक न्यूज फैक्ट्री ऑप इंडिया की खिंचाई

0

बॉलीवुड फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप ने बलात्कार के मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाते हुए पाखंडियों और फेक न्यूज फैक्ट्री ऑप इंडिया का जिक्र करते हुए ट्विटर पर उसकी जमकर खिंचाई की है। बता दें कि ऑप इंडिया पर खबरों को लेकर ढोंग रचने का आरोप लगता रहा है। दरअसल, ट्विटर पर कश्यप ने एक अखबार की स्टोरी का लिंक साझा करते हुए कहा कि कैसे नकली वीडियो और अफवाहों ने अलीगढ़ में एक दंगे की स्थिति पैदा कर दी।

उनके इस ट्वीट का जवाब देते हुए एक ट्रोल ने लिखा कि अपनी बेटी को किसी ने इंस्टाग्राम पर धमकी दी तो बॉलीवुडिया ने पीएमओ (प्रधानमंत्री कार्यालय) को टैग कर दिया। लेकिन ढाई साल की मासूम की बेरहमी से हत्या कर दी गई। इस मामले पर आम आदमी गुस्से में हैं और इस पर कुछ भी नहीं कहा जाना चाहिए।

ट्रोल को जवाब देते हुए नाराज कश्यप ने लिखा कि एक बच्चे की हत्या उतना ही जघन्य अपराध है जितना कि हो सकता है और कार्रवाई होनी चाहिए। अपराधी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। लेकिन यह कहना कि बलात्कार हुआ था, और शरीर और आँखों को खंडित कर दिया गया था, जो कि नहीं हुआ और फिर दंगों का माहौल बना। नहीं।

इसके बाद एक अन्य ट्रोल ने लिखा कि अनुराग कश्यप बेहद खेदजनक है। दूसरों की बेटी के साथ हुआ तो हुआ, आप तो राजनीति जारी रखें। दूसरे के दर्द के प्रति इतनी असंवेदनशीलता। चौंकाने वाला … या वास्तव में नहीं। इसके बाद एक बार फिर प्रसिद्ध फिल्म निर्माता ने ट्रोल को जवाब देते हुए लिखा, “आपकी गलती नहीं है। आप OpIndia पढ़ते हैं।”

बता दें कि पिछले दिनों अनुराग कश्यप की बेटी को एक ‘मोदी समर्थक’ ने भद्दी गाली देते हुए रेप की धमकी दी थी। जिसके बाद अनुराग ने उस ट्वीट का स्क्रीशॉट शेयर करते हुए पीएम मोदी से पूछा था कि वह इन लोगों से कैसे निपटें? कश्यप की शिकायत पर मुंबई पुलिस ने इस मामले की एफआईआर दर्ज कर ली थी। ऑप इंडिया ब्लॉग पेज भाजपा के पक्ष में फर्जी खबरों के लिए कुख्यात है। ब्लॉग पेज को अपनी उत्तेजक नकली कहानियों के माध्यम से कानून और व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ने के प्रयास के लिए कानून के प्रवर्तन एजेंसियों से सार्वजनिक उपहास का सामना करना पड़ा है।

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की निर्मम हत्या कर दी गई। पुलिस के अनुसार, आपसी रंजिश में इस वीभत्स हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। मामला पैसों के लेन-देन से जुड़ा बताया गया है, जिसमें पुलिस ने जाहिद और असलम को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस बताया कि बच्ची की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची से रेप की बात सामने नहीं आई है। उसकी गला दबाकर हत्या की गई है। हालांकि, हिंदुत्व समर्थक खेमा, जैसे ऑपइंडिया और उसके समान विचारधारा वाले लोगों ने गलत तरीके से बलात्कार के कोण (ऊपर स्क्रीनशॉट देखें) को गलत तरीके से जोड़कर इसे हिंदू-मुस्लिम मुद्दा बनाने की कोशिश की थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here