VIDEO: मधुर भंडारकर पर भड़के अनुराग कश्यप, बोले- ‘योगी यूपी के मालिक नहीं, सीएम हैं’

0

मुस्लिमों, दलितों और दूसरे अल्पसंख्यकों के खिलाफ देश में लगातार बढ़ती मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर चिंता जताते हुए अलग-अलग क्षेत्रों की 49 जानी-मानी हस्तियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा था। इस लेटर में प्रधानमंत्री से मॉब लिंचिंग के खिलाफ एक सख्त कानून बनाए जाने की मांग की थी। इन हस्तियों में बॉलीवुड के जाने-माने डायरेक्टर अनुराग कश्यप भी शामिल थे। वहीं, अब अनुराग कश्यप ने अपने साथी फिल्मकार मधुर भंडारकर पर देश में अहिष्णुता के परिप्रेक्ष्य में उनके बयान को लेकर निशाना साधा है।

दरअसल, हाल ही में फिल्म निर्देशक मधुर भंडाकर ने एक टीवी चैनल डिबेट में कहा था कि वो लोग जो मोदी और योगी की आलोचना करते हैं, वहीं यूपी में फिल्में बनाते हैं और राज्य सरकार से सब्सिडी लेते हैं। क्यों आप लोग यूपी सरकार से सब्सिडी लेते हो? आपको यूपी सरकार से सब्सिडी नहीं लेनी चाहिए। क्यों यह दोहरापन है? भंडारकर ने कहा कि योगी का विरोध करने वाले लोगों को यह कह देना चाहिए कि जब तक योगी मुख्यमंत्री हैं, हम वहां शूटिंग नहीं करेंगे, हम सब्सिडी नहीं लेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जब पैसे की बात आती है तो विरोधी सिलेक्टिव हो जाते हैं और यही उनका दोहरापन है।

मधुर भंडारकर की यह बात अनुराग कश्यप को अच्छी नहीं लगी और उन्होंने ट्वीट कर उनपर निशाना साधा। अनुराग कश्यप ने ट्वीट कर लिखा, “क्या मजाक है। यह मेरा राज्य है। मैं उत्तर प्रदेश में ही पैदा हुआ था और वहीं पला-बढ़ा हूं। फिल्मों को मिलने वाली सब्सिडी योगी जी ने शुरू नहीं की है। वह राज्य के मालिक नहीं हैं, वह मुख्यमंत्री हैं। भले ही मैं मोदी जी का समर्थन नहीं करता लेकिन फिर भी में 100 पर्सेंट भारतीय हूं। और मैं भारत में ही फिल्में बनाता हूं और आगे भी ऐसा ही करता रहूंगा।”

अनुराग कश्यप के इस ट्वीट की काफी चर्चा हो रही है। बता दें कि भीड़ हिंसा को लेकर 49 हस्तियों के जवाब में 62 हस्तियों के पत्र में तीन तलाक का जिक्र कर मोदी सरकार के कार्यों का भी समर्थन किया गया है।

बता दें कि, लिंचिंग से चिंतिंत कलाकारों समेत कई बड़ी हस्तियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है और ऐसे मामलों में सख्त कदम उठाने के लिए कहा है। देशभर की 49 बड़ी हस्तियों (जिसमें अनुराग कश्यप, अपर्णा सेन, श्याम बेनेगल, मणिरत्नम और कोंकणा सेन शर्मा जैसे लोग शामिल हैं) ने पीएम मोदी के नाम यह चिट्ठी लिखी है। विभिन्न पृष्ठभूमि की 49 हस्तियों ने इस मुद्दे को हल करने के लिए एक साथ 23 जुलाई को प्रधानमंत्री को लिखे पत्र के जरिए यह मुद्दा उठाया।

पत्र पर श्याम बेनेगल, रिद्धि सेन, रामचंद्र गुहा, बिनायक सेन, सौमित्र चटर्जी, रेवती, शुभा मुद्गल, अनुपम रॉय शामिल आदि के साक्षात्कार किए गए हैं। पत्र में शुरुआत में लिखा गया है, प्रिय प्रधानमंत्री, हम शांतिप्रिय और गर्वित भारतीयों के तौर पर अपने प्रिय देश में हाल के दिनों में घटित होने वाली कई दुखद घटनाओं के बारे में काफी चिंतित हैं। बता दें कि इससे पहले भी कई बार अनुराग कश्यप मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here