कानपुर एनकाउंटर मामला: विकास दुबे का एक और फरार साथी बालगोविंद चित्रकूट से गिरफ्तार, 50 हजार का था इनामी

0

उत्तर प्रदेश के कानपुर के चौबेपुर बिकरू गांव में दो जुलाई की आधी रात में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी की हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने 50 हजार के इनामी और विकास दुबे के साथी बालगोविंद दुबे उर्फ लालू को चित्रकूट से गिरफ्तार किया है।

विकास दुबे

उत्तर प्रदेश एसटीएफ की टीम ने अपने जारी बयान में बताया कि बाल गोविंद दुबे उर्फ लालू पुत्र स्वर्गीय मेवालाल, निवासी बिकरू, चौबेपुर, कानपुर कोतवाली कर्वी क्षेत्र में खोही से कर्वी जाने वाले मार्ग पर गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ ने उसे चित्रकूट से पकड़ा है और उसे कानपुर लाने की तैयारी की जा रही है। दो जुलाई की रात हुई वारदात में यह शामिल था। इस पर गंभीर धाराओं के तहत कई मुकदमे भी दर्ज हैं।

कानपुर एनकाउंटर के कई सप्ताह बीत चुके हैं। पुलिस अब तक इस चर्चित कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे समेत छह अपराधियों का एनकाउंटर कर चुकी है। 18 आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है। जबकि, विकास दुबे का भाई दीपक दुबे, राजाराम, शिव तिवारी, विष्णु पाल यादव उर्फ जिलेदार, रामू बाजपेई, गोपाल सैनी, हीरू दुबे, शिवम दुबे फरार हैं। इन सभी पर 25-25 हजार रूपए का इनाम भी घोषित किया जा चुका है।

11 आरोपियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया गया है। अब इनकी गिरफ्तारी और आगे की न्यायिक प्रक्रिया में पुलिस को आसानी होगी। पुलिस इस प्रकरण में अब तक दयाशंकर अग्निहोत्री, शशिकांत, जेसीबी चालक, उमाकांत शुक्ला, गुड्डन त्रिवेदी समेत अब तक एक दर्जन लोगों को गिरतार कर जेल भेज चुकी है।

बीते शनिवार को कानपुर शूटआउट में नामजद उमाकांत शुक्ला ने चौबेपुर थाने में नाटकीय अंदाज में सरेंडर कर दिया था। वह अपने परिवार के साथ थाने पहुंचा। गले में तख्ती लटकाई थी, जिसमें खुद के विकास दुबे का साथी होने और कानपुर कांड के बाद आत्मग्लानि की बात लिखी थी। एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया की बाल गोविंद को गिरफ्तार कर लिया गया है और पूछताछ के लिए उसे कानपुर लाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here