उत्तर प्रदेश: कासगंज में पुलिस टीम पर हमला करने वाला एक आरोपी एनकाउंटर में ढेर, मुख्य आरोपी अब भी फरार

0

उत्तर प्रदेश में कासगंज जिले के सिढ़पुरा क्षेत्र में पुलिस टीम पर हमला कर सिपाही की हत्या करने वाला एक आरोपी बुधवार सुबह मुठभेड़ में मारा गया। वहीं, इस कांड का मुख्य आरोपी अब भी फरार चल रहा हैं।

उत्तर प्रदेश
फोटो: ANI

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार सिढ़पुरा इलाके में बुधवार सुबह करीब पांच बजे काली नदी की कटरी किनारे मुठभेड़ हुई जिसमें मुख्य आरोपी मोती धीवर का भाई एलकार धीमर मारा गया। पुलिस फरार मुख्य आरोपी मोती धीवर की सरगर्मी से तलाश कर रही है। उन्होंने बताया कि मारे गए बदमाश एलकार के कब्जे से एक तमंचा और कुछ कारतूस मिले हैं। इसपर हत्या समेत पांच मामले दर्ज हैं जबकि मुख्य आरोपी नगला धीमर गांव हिस्ट्रीशीटर मोती धीवर पर 12 मामले दर्ज हैं। इसकी तलाश में पुलिस की कई टीमें लगी है।

गौरतलब है कि, मंगलवार शाम हल्का इंचार्ज अपने उपनिरीक्षक अशोक पाल अपने हमराह सिपाही देवेंद्र के साथ नियमित गश्त पर निकला था। वहां से वे नगला धीमर गांव गए जहां पूर्व में भी जहरीली शराब बनाने के मामले सामने आए हैं। देर शाम शराब माफियाओं ने पुलिस पर हमला कर लिया था। इस घटना में कांस्टेबल देवेंद्र कुमार की मौत हो गई जबकि उपनिरीक्षक आशोक पाल घायल हो गए। उनका उपचार अलीगढ़ मेडिकल में चल रहा है। शराब माफिया घायल उपनिरीक्षक की सरकारी रिवाल्वर भी छीनकर ले गए।

घटना की सूचना पर माफियाओं को पकड़ने के लिए सिढ़पुरा औऱ अगल बगल के जिलों की पुलिस को मौके पर भेजा गया था। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 12 टीमें लगाई गई हैं। घटना को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों पर रासुका लगाने के निर्देश देते हुए हमले में मारे गये कांस्टेबल देवेंद्र कुमार के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक साहयता और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। (इंपुट: एजेंसी के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here