जिन्ना की तस्वीर को लेकर जारी विवाद के बीच AMU के कुलपति ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ से की मुलाकात

0

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर जारी घमासान के बीच विश्वविद्यालय के कुलपति तारिक मंसूर ने आज दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। कुलपति ने विश्वविद्यालय परिसर में जिन्ना की लगी तस्वीर को लेकर उठे विवाद के बीच प्रतिष्ठित शैक्षिणक संस्थान से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की।

AMU
file photo

समाचार एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, बैठक के बारे में एक अधिकारी ने बताया कि सिंह ने विश्वविद्यालय में सामान्य स्थिति बनाए रखने के लिए मंसूर को केन्द्र सरकार से सभी सहायता मुहैया कराने का आश्वासन दिया। मंसूर ने बाद में संवाददाताओं को बताया कि बैठक लंबे समय से तय थी और इसका वर्तमान विवाद से कोई लेना देना नहीं है।

उन्होंने बताया, ‘मैने गृह मंत्री से इंजीनियरिंग सेवा जैसे केन्द्रीय सेवाओं में छात्रों की भर्ती के लिए केन्द्र सरकार के अधिकारियों को भेजने का अनुरोध किया।’ कुलपति ने कहा कि एएमयू छात्र संघ के कार्यालय में 1938 से पाकिस्तान के संस्थापक की तस्वीर लगी हुयी है अैर यह कोई मुद्दा नहीं है।

बीजेपी सांसद सतीश गौतम ने मंसूर को पत्र लिख कर तस्वीर पर आपत्ति व्यक्त की थी। इस मुद्दे को लेकर वहां हिंसा हुयी और 12 मई की परीक्षा रद्द कर दी गयी थी। इस सिलसिले में पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। कुलपति ने कल इस मुद्दे को लेकर धरने पर बैठे छात्रों को वापस जाकर पढ़ाई करने की नसीहत दी थी।

एक खुले पत्र में उन्होंने उनसे ‘कुछ ताकतों के जाल में नहीं फसंने का अनुरोध किया जो हमारे संस्थान की छवि को नष्ट करने पर आमदा हैं और आपके उज्जवल भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं।’ विश्वविद्यालय ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों के साथ बातचीत के लिए संकाय के वरिष्ठ सदस्यों की 16 सदस्यीय एक समन्वय समिति गठित की है।

नारेबाजी करते हुये परिसर में घुस आये दक्षिणपंथी प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग के दौरान दो मई को पुलिस के साथ हुये एक संघर्ष के बाद एएमयू के अनेक छात्र अनिश्चितकालीन ‘धरना’ पर बैठे हुये हैं। वे ‘पुलिस की निष्क्रियता’ और बीजेपी के सांसद द्वारा चित्र पर आपत्ति जताये जाने के बाद जिस तरह से विवाद उत्पन्न हुआ उसकी न्यायिक जांच कराने की मांग कर रहे हैं।

वहीं, दूसरी ओर अब एएमयू में चल रहे छात्रों के आंदोलन में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल, एएमयू छात्रों के समर्थन में अब बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के छात्रों सहित विश्व भर के करीब 15 यूनिवर्सिटी के छात्र खुलकर आ गए हैं। बीएचयू के छात्रों ने एएमयू छात्रों के समर्थन में यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन भी किया। वहीं बीएचयू के छात्र नेता दीपक राजगुरु ने AMU के छात्र नेता शरजील उस्मानी को फोन कहा कि जिन्ना की तस्वीर हटाइएगा मत, हम आपके साथ है। इसके अलावा दीपक ने शरजील से कहा कि बनारस सहित पूरा देश आप लोगों के साथ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here