अमिताभ बच्चन को मिला ‘दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड’, CAA और NRC पर चुप्पी को लेकर ट्विटर पर जमकर हो रहे हैं ट्रोल

0

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को रविवार (29 दिसंबर) को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक विशेष समारोह में सिनेमा के सर्वोच्च सम्मान ‘दादा साहेब फाल्के पुरस्कार’ से सम्मानित किया। इस दौरान उनके साथ जया बच्चन और बेटे अभिषेक बच्चन भी मौजूद थे। लेकिन वहीं सोमवार (30 दिसंबर) को अमिताभ बच्चन ट्विटर पर लोगों के निशाने पर आ गए, यूजर्स उन्हें जमकर ट्रोल कर रहें है।

अमिताभ बच्चन

दरअसल, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर हो रहें विरोध-प्रदर्शन पर उनकी चुप्पी को लेकर ट्वीट किए जा रहे हैं, जहां कुछ लोगो उनके समर्थन में हैं तो कुछ उनके खिलाफ। इन सब के बीच, ट्विटर पर  भी ट्रेंड करने लग गया है।

एक यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, “बच्चन साहब आप होंगे बड़े कलाकार मगर अनुराग कश्यप, स्वरा भास्कर, ऋचा चड्ढा और अनुभव सिन्हा जैसे तमाम लोगो के सामने कुछ नही हैं। क्योंकि जब देश मे ज़ुल्म के खिलाफ खड़े होकर बोलने की जरूरत है तब आप अपने मुँह पर ‘दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड’ का ताला लटकाए हुए हैं।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “फिल्मों में, टीवी पर पैसों के लिए ज़ुल्म के खिलाफ खड़े होने वाला महानायक नहीं होता है। वास्तव में समाज में ज़ुल्म के खिलाफ खड़े होने वाला असली महानायक होता है।” एक अन्य ने लिखा, “अमिताभ बचचन को 19- 20 का फर्क मालूम है लेकिन देश में 20 लोग #NRC #CAA के खिलाफ मारे गए लोग वो नहीं मालूम। देश 10 दिनों से जल रहा है वो नहीं मालूम।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “अमिताभ बच्चन जी अपने बंगले से बाहर निकलकर देखिए पूरा देश में हाहाकार मची है। NRC, CAA पर मगर आपके मुंह से एक शब्द नहीं निकल रहे हैं आखि़र क्यों किस बात की डर है पनामा का डर या कुछ और डर है अरे हां आपको दादा साहेब फाल्के पुरस्कार का लालच है ना अमिताभ बच्चन जी।” इसी तरह तमाम यूजर्स CAA और NRC पर चुप्पी के लिए अमिताभ बच्चन पर निशाना साध रहे हैं।

गौरतलब है कि, नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर देश में विरोध जारी है। देश की कई हिस्सों में लोग इसका विरोध करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

 

हिंदी फिल्म जगत में वर्ष 1969 में ‘‘सात हिंदुस्तानी’’ फिल्म से अपने करियर की शुरूआत करने वाले बच्चन अपनी पत्नी एवं सांसद जया बच्चन और पुत्र अभिषेक बच्चन के साथ समारोह में शामिल हुए थे। पांच दशक के अपने फिल्मी करियर में बच्चन शीर्ष पर बने रहे और फिल्मों में यादगार काम के जरिए अपने प्रशंसकों को हैरान करते रहे। प्रसिद्ध हिंदी कवि हरिवंश राय बच्चन और तेजी बच्चन के घर 1942 में जन्मे बच्चन ने एक अभिनेता के रूप में ‘‘सात हिंदुस्तानी’’ फिल्म से अपने करियर की शुरूआत की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here