मुंबई में मूसलाधार बारिश के बीच अमिताभ बच्चन ने शेयर किया मजाकिया मीम, देखें लोगों ने कैसे लिए मजे

0

मुंबई में मूसलाधार बारिश के कारण ने आम लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। मूसलाधार बारिश के कारण मंगलवार को मुंबई में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ। बारिश की वजह से स्कूल-कॉलेज सब बंद हैं। बच्चों की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। मंगलवार को देश की आर्थिक राजधानी की पूरी तरह से रफ्तार थम गई और लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो गए। सोमवार रात को मूसलाधार बारिश के बाद मंगलवार को भी शहर में बरसात हुई। बारिश से शहर में बने हालात देखकर ही पता चलता है कि कितनी भारी बारिश हुई है।

अमिताभ बच्चन

मूसलाधार बारिश के कारण मंगलवार को वित्तीय राजधानी जलमग्न हो गई और शहर में दीवार गिरने की एक घटना में 21 लोगों की जान चली गई। अधिकारियों ने बताया कि शेष महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में बारिश से संबंधित घटनाओं में 14 लोगों की मौत हो गई। रविवार से हो रही भारी बारिश के कारण मुंबई में रेल, वायु और सड़क यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुआ। कई ट्रेनों और विमानों को रद्द करना पड़ा।

मजाकिया ट्वीट कर ट्रोल हुए बिग बी

इस बीच मंगलवार को मुंबई में हो रही बारिश को लेकर बॉलीवुड के सुपरस्टार अमिताभ बच्चन ने ऐसा ट्वीट कि वह जंगल में आग की तरह सोशल मीडिया पर फैल गई। बता दें कि अमिताभ लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं। अमिताभ ने मंगलवार को एक ट्वीट किया जिसमें वे मजाकिया ढंग से बारिश को लेकर प्रतिक्रिया दी है। अमिताभ बच्चन पर बनाया गया यह मीम सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। अमिताभ ने जो मीम शेयर किया है जो उसमें मुंबई में हो रही बारिश को लेकर तंज कसा गया है।

दरअसल, अमिताभ  इस मीम में तस्वीर पर लिखा है भइया, गोरेगांव लेना। जिसके जवाब में अमिताभ बच्चन ने लिखा है जलसा होते हुए। इस मीम में अमिताभ के साथ पुराने जमाने की मशहूर अभिनेत्री जीनत अमान को भी देखा जा सकता है। अमिताभ ने अपने जब ये मीम सोशल मीडिया पर देखा तो खुद के ट्विटर अकाउंट से इसे शेयर कर एक कैप्शन भी लिखा। कैप्शन में उन्होंने खुद का मजाक बनाते हुए लिखा, “जलसा होते हुए।”

देखें, सोशल मीडिया पर लोगों के मजेदार रिएक्शन

उत्तरी उपनगर मलाड में भारी बारिश के बाद मंगलवार तड़के एक दीवार ढहने से 21 लोगों की मौत हो गई और 78 लोग घायल हुए हैं। एक वरिष्ठ सिविक अधिकारी ने यहां पत्रकारों को बताया कि घायलों को सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया और उनमें से 15 को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। वहीं मलबे में फंसी 15 वर्षीय संचिता को करीब 12 घंटे बाद बाहर निकाला गया, लेकिन उसने दम तोड़ दिया।

मलाड में एक कार में पानी भरने से उसमें फंसे दो लोगों की मौत हो गई। विले पार्ले में एक व्यक्ति को करंट लग गया और उपनगर मुलुंड में दीवार गिरने से एक सुरक्षा गार्ड की मौत हो गई। वहीं पुणे के अम्बेगांव इलाके में सोमवार देर रात एक शैक्षणिक संस्थान की दीवार उसके पास बनी अस्थायी झोंपड़ियों पर गिरने से छह श्रमिकों की मौत हो गई। वहीं मंगलवार तड़के ठाणे जिले के कल्याण में एक दीवार गिरने से तीन लोगों की जान चली गई। बुलढाणा जिले में आकाशीय बिजली गिरने से 52 वर्षीय महिला की मौत हो गई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here