NDA से TDP के अलग होने पर BJP अध्यक्ष अमित शाह ने चंद्रबाबू नायडू को लिखी चिट्ठी, जानिए क्या कहा

1

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलने से नाराज केंद्र में मोदी सरकार की मुख्य सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी(TDP) ने पिछले कुछ दिनों पहले एनडीए का साथ छोड़ दिया। वहीं, अब भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के अध्यक्ष अमित शाह ने TDP प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में अमित शाह ने नायडू की पार्टी टीडीपी के एनडीए छोड़ने के फैसले को एकतरफा और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

गुजरात
फाइल फोटो

अमित शाह ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि, ‘यह निर्णय न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि एकतरफा है, मुझे भय है कि यह निर्णय विकास की चिंता को लेकर नहीं बल्कि राजनीतिक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र के विकास के लिए कोई कसर बाकि नहीं रखी है।’ अमित शाह ने आगे लिखा कि, ‘आपको यह याद होगा की पिछली लोकसभा और राज्यसभा में जब आपका प्रतिनिधितव बढ़िया नहीं था तब बीजेपी ने एजेंडा सेट किया। उस वक्त बीजेपी ने सुनिश्चित किया कि तेलुगु लोगों को दोनों राज्यों में न्याय मिले।’

उन्होंने अपनी चिट्ठी में आगे लिखा कि, ‘आपको ये मालूम होगा लेकिन आप यह मानेंगे नहीं कि केंद्र सरकार ने अपनी सारी जिम्मेदारियां पूरी की हैं। बीजेपी आंध्र के लोगों की सच्ची दोस्त और शुभचिंतक है, एनडीए सरकार ने आंध्र को केंद्र सहायता दुगनी की है।’

बता दें कि, आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलने से नाराज केंद्र में मोदी सरकार की मुख्य सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी (TDP) ने एनडीए से बाहर निकलने का फैसला किया था। अमित शाह ने इसी फैसले पर पत्र लिखकर प्रतिक्रिया दी है। बता दें कि, अमित शाह ने यह चिट्ठी शुक्रवार(23 मार्च) को लिखी है। बता दें कि, पार्टी के राज्यसभा में 16 सदस्य हैं।

 

 

1 COMMENT

  1. भाजपा जिसका दामन पकड़ कर आगे बढती है, मौका मिलने पर उसी की पीठ में छुरा मारती है. जीतन राम मांझी इस प्रकार के दुसरे उदाहरण हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here