सूरत में अमित शाह की रैली में पटेल समुदाय का गुस्सा, भाजपा अध्यक्ष अपना भाषण सिर्फ ‘चार मिनट’ में समाप्त करने को मजबूर

0

भाजपा के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह को आज उस समय बड़ी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा जब पाटीदार समुदाय की एक रैली के दौरान भीड़ उग्र हो गयी और प्रदर्शनकारियों ने रैली में मौजूद कुर्सियों को तोड़ना शुरू कर दिया।

हालात बेकाबू होता देख आयोजकों ने गुस्साई भीड़ से विनती की कि वो रैली स्थल को छोड़ कर न जाएँ

Also Read:  नितिन पटेल होंगे गुजरात के नए मुख्यमंत्री, औपचारिक घोषणा शाम को विधायक दल की बैठक में

cr1ykc3w8aiktw

कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार शाह को अपना भाषण सिर्फ चार मिनट में ही ख़त्म करना पड़ा।

शाह के सूरत पहुँचने से पहले रास्तों पर उन के विरोध में कई जगहों पर पोस्टर्स लगाए गए थे जिनमें भाजपा अध्यक्ष को जनरल डायर बताया गया था।

Also Read:  बीजेपी में पीएम मोदी और अमित शाह के आलोचक वरुण गांधी और आडवानी यूपी में स्टार प्रचारकों की लिस्ट से बाहर

एक पोस्टर में लिखा था, “जनरल डायर वापस जाओ। ”

दरअसल पिछले साल पटेलों द्वारा आरक्षण के मुद्दे पर आंदोलन के समय से पटेल समुदाय और भाजपा के बीच दूरियां बढ़ गयी हैं। पटेल समुदाय एक लंबे समय तक भाजपा के समर्थक माने जाते थे। लेकिन गुजरात की भाजपा सरकार द्वारा पटेल प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई और हार्दिक पटेल समेत उनके कई नेताओं की गिरफ्तारी की वजह से पटेल समुदाय में भाजपा के विरुद्ध रोष व्याप्त है।

Also Read:  विधानसभा चुनाव में नोटबंदी का प्रभाव पड़ने से भाजपा नेताओं के बीच उभरा गहरा असंतोष

अगले साल राज्य में असेंबली चुनाव है और पटेल समुदाय की नाराज़गी भाजपा की परफॉर्मंस पर बुरा असर दाल सकती है।

(Video- News 24)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here