VIDEO: कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में हिंसा के बाद ममता बनर्जी ने बीजेपी अध्यक्ष पर बोला हमला

0

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान मंगलवार को भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच हिंसक झड़पें हुईं। इस घटना के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने अमित शाह पर हमला बोला है। बीजेपी कार्यकर्ताओं पर कथित तौर पर बंगाली दार्शनिक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा के साथ तोड़फोड़ करने और संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने सहित मोटरसाइकिलों को आग लगाने का आरोप है।

अमित शाह

कोलकाता के बेहाला में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अमित शाह ने कोलकाता में परेशानी पैदा करने के लिए राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के गुंडों को लेकर आए थे। उन्होंने कहा, यह बंगाली चैनलों द्वारा व्यापक रूप से बताया गया है। राष्ट्रीय चैनलों ने यह नहीं दिखाया क्योंकि वे दाना हैं। उन्हें अकेला छोड़ दो।

उन्होंने रैली से कहा, “आपको पता होना चाहिए कि क्या हुआ। जैसे ही अमित शाह का रोड शो समाप्त हुआ, भाजपा के गुंडों ने सेट विद्यासागर कॉलेज में आग लगा दी। उन्होंने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। कोलकाता कभी भी इस तरह की शर्मिंदगी का गवाह नहीं बना, तब भी नहीं जब नक्सल आंदोलन अपने चरम पर था।”

बनर्जी ने चेतावनी दी कि वह इस घटना के लिए भाजपा को नहीं छोड़ेंगी। उसने कहा, हम उन्हें नहीं छोड़ेंगे, हम भाजपा को उचित जवाब देंगे। शाह को संबोधित करते हुए बनर्जी ने कहा, अगर आप विद्यासागर तक हाथ ले जाते हैं तो मैं आपको गुंडे के अलावा क्या कहूंगी। उन्होंने कहा, मुझे आपकी विचारधारा से घृणा है, मुझे आपके तरीकों से नफरत है।

साथ ही उन्होंने विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा तोड़े जाने के खिलाफ बृहस्पतिवार को एक विरोध रैली की घोषणा की। बनर्जी ने कहा, “बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना, भाजपा हताश है। वे हमारे आइकन का सम्मान भी नहीं करते हैं। वे विद्यासागर का भंडाफोड़ कैसे कर सकते थे? हम एक विरोध रैली करेंगे।”

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, विद्यासागर कॉलेज के प्रधानाचार्य गौतम कुंडु ने कहा ‘भाजपा समर्थक पार्टी का झंडा लिये हमारे दफ्तर के अंदर घुस आए और हमारे साथ बदसलूकी करने लगे। उन्होंने कागज फाड़ दिया, कार्यालय एवं संघ के कक्षों में तोड़फोड़ की और जाते वक्त विद्यासागर की आदम कद प्रतिमा तोड़ दी। उन्होंने दरवाजे बंद कर दिये और मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया।’

इससे पहले यह तनाव तब बढ़ गया था जब अमित शाह के काफिले के कॉलेज स्ट्रीट और स्वामी विवेकानंद के निवास के लिए उत्तरी कोलकाता में बिधान सारणी से गुजरते वक्त पथराव किया गया। अधिकारियों ने बताया कि कॉलेज स्ट्रीट पर कलकत्ता विश्वविद्यालय परिसर के बाहर झड़प तब शुरू हो गई जब एक समूह ने शाह के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। हालांकि, पुलिस ने मौके पर स्थिति को नियंत्रित कर लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here