मोदी की तस्वीर वाले 2017 के ‘भाजपा नेता के’ कैलेंडर में बाबा साहेब भीमराव अम्बेडर के जन्मदिवस को बताया गया ‘अशुभ दिवस’

0

मोदी सरकार एक तरफ ‘भीम ऐप’ के नाम से अपने डिजिटल प्रयासों को सामने ला रही है वहीं दूसरी तरफ 2017 के कैलेंडर में बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के जन्मदिवस को ‘अशूभ दिवस’ दिखाकर प्रचारित कर रही है। भारत रत्न भीमराव अम्बेडकर के जन्मदिन को ‘अशूभ दिवस’ बताकर बीजेपी का दलितों के प्रति दिखाए गए नज़रिए को इस कैलेंडर के आने बाद कड़ी निंदा की जा रही है।

भाजपा कैलेंडर

बाबा साहेब अम्बेडकर को सिर्फ भारत रत्न ही नहीं बल्कि दुनिया के महान दलित नेताओं में गिने जाने वाले नायक के तौर पर देखा जाता है। सारे भारत में 14 अप्रैल के दिन को सभी राजनीतिक दल उनके जन्मदिवस के रूप में मनाते है और बड़े-बड़े कार्यक्रम इस दिन रखते है।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में दलितों का वोट बैंक रिझाने के लिए बीजेपी हर सम्भव कोशिश कर रही है। जबकि माना ये जा रहा है कि यूपी चुनाव में बिना दलितों के सरकार बनाना असम्भव प्रतीत होता है। ऐसे में बाबा साहेब के जन्मदिवस को अशुभ दिवस कहना दलित समाज पर भारी चोट करता है।

आउटकास्ट इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक इस कैलेंडर में पीएम मोदी के अलावा देवेन्द्र फड़नवीस व अन्य बीजेपी नेताओं को प्रमुख रूप से दिखाया गया है। जिला सचिव,भारतीय जनता युवा मोर्चा के मनोज राधाकिसन कोकाटे की और से इस कैलेंडर को दिखाया गया है। प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन को फिलहाल भारतीय जनता युवा मोर्चा की कमान बीजेपी ने सौंपी है।

जब इस कैलेंडर के बाबत हमने भा.ज.य.मो. से संपर्क का प्रयास किया तो उनसे सम्पर्क नहीं बन सका। बीजेपी की और से पीएम मोदी ने भीम ऐप उतारकर अपने दलित प्रेम को जाहिर किया था लेकिन भारतीय जनता युवा मोर्चा के इस कैलेंडर के आने के बाद विधानसभा चुनावों में दलित वोट बैंक पर क्या प्रभाव पड़ेगा ये अभी नहीं कहा जा सकता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here