यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मोर्य का एक पोस्टर, बाबा साहेब के जन्मदिवस को बताया पुण्यतिथी

0

इरशाद अली 

केशव प्रसाद मोर्या समर्थक के निदंनीय कारनामों वाली तस्वीरें अब सामने आ रही है। इस बार सोशल मीडिया पर वायरल हुआ केशव प्रसाद मोर्या की अध्यक्षता में हुए एक कार्यक्रम में 14 अप्रैल को बाबा साहेब के 125वीं जन्मदिवस के मौके को 125वीं पुण्यतिथी बनाकर लगा दिया है।

दलितों के प्रति दिखावटी प्रेम का ये ताजा उदाहरण बीजेपी अध्यक्ष और उनके समर्थकों का सामने आया है।

पोस्टर में जन जागरण यात्रा निकाले जाने की बात है जिसमें बड़ी सी तस्वीर के साथ केशव प्रसाद मौर्य के साथ नरेन्द्र मोदी और अमित शाह हंसते हुए दिखाई दे रहे है।

Also Read:  बेंगलुरु: गौहत्या की शिकायत करने वाली महिला पर भीड़ ने पत्थरों से किया हमला

12987205_1092273467497309_7686070354081756974_n

कल जो केशव प्रसाद मौर्या का पोस्टर वायरल हुआ था उसमें यूपी को द्रौपदी और अखिलेश यादव, मायावती, आजमखान, राहुल गांधी को चीरहरण करने वाला दिखाया गया था जबकि केशव प्रसाद मोर्या श्रीकृष्ण के रूप में नजर आ रहे थे। इस कारनामें को अंजाम दिया था उनके समर्थक रूपशे पांडे ने और आज जिस 125 वे जन्मदिवस को पुण्यतिथी में बदल दिया है वो काम किया है स्वागतकर्ता के रूप मंे किसी विनोद सोनकर ने।

Also Read:  योगी आदित्यनाथ के आलोचकों के लिए एक मुफ्त सुझाव, "ज़्यादा शेखी मत बघारो और तुम भी पपीते का मज़ा लो"

ये दोनों ही समर्थक अपने खुद के बड़े साइज के फोटो भी इन पोस्टरों पर लगाए हुए है। जबकि केशव प्रसाद मोर्या ने कल भी इस मामले पर सफाई देते हुए कहा था कि उन्हें पता ही नहीं है कि क्या हो रहा है और आज भी वह इस पर सफाई देते हुए कहीं दिख जाएगें कि उन्हें नहीं मालूम कि ये काम किसने किया है। उनका इससे कोई सम्बंध नहीं है।

Also Read:  दिल्ली घूसखोरी में दूसरे नम्बर पर आई, 1071 शहरों से घूसखोरी के 1.05 लाख से ज्‍यादा मामले रिपोर्ट हुए

पोस्टर फेसबुक वाॅल पर पूर्व खिलाड़ी अजीत वर्मा की वाल पर दिखा जिसमें उन्होंने कहा कि यह हैं भारत रत्न बाबा साहब के ताजे ताजे ठेकेदार जिन्होंने उनकी 125वीं जन्मतिथि की जगह पुण्यतिथि मना दी और इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे बाबा साहब के नए वारिस नरेंद्र मोदी जी के उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here