VIDEO: पोलिंग बूथ पर कांग्रेस उम्मीदवार अलका लांबा और AAP कार्यकर्ता के बीच झड़प

0

दिल्ली विधानसभा चुनावों की वोटिंग के दौरान शनिवार (8 फरवरी) को चांदनी चौक इलाके के मजनूं का टीला स्थित पोलिंग बूथ पर कांग्रेस उम्मीदवार अलका लांबा और आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ता के बीच झड़प हो गई। आरोप है कि, आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता पुलिस के सामने ही अलका लांबा पर अभद्र टिप्णियां कर रहा था। जिसके चलते गुस्से में लांबा ने उसे थप्पड़ जड़ने की कोशिश की।

अलका लांबा

समाचार एजेंसी ANI द्वारा जारी किए गए वीडियो में दिख रहा है कि, पोलिंग बूथ के बाहर खड़ीं चांदनी चौक से कांग्रेस उम्मीदवार अलका लांबा किसी से बात कर रही थीं, तभी एक शख्स उनसे बार-बार यह पूछ रहा था कि ’22 साल का लड़का किसका है, यह तो बता दो एक बार’। इस पर गुस्से में आकर अलका लांबा ने थप्पड़ मारने का प्रयास किया। हालांकि, शख्स के पीछे हट जाने से थप्पड़ नहीं पड़ा। इसके बाद माहौल बिगड़ गया और पुलिस को बीच-बचाव करना पड़ा।

इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिस तुरंत हरकत में आई और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता को वहां से दूर ले जाती है। हालांकि अलका लांबा यहीं नहीं रुकती वो फिर पुलिस के बीच उस शख्स को पीटने के लिए घुसती हैं, लेकिन पुलिस उन्हें ऐसा करने से रोक देती हैं। इस पूरे मामले का एक वीडियो भी सामने आया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता खुलेआम पुलिस के सामने अलका लांबा पर अभद्र टिप्पणियां कर रहा है।

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि पार्टी घटना की शिकायत चुनाव आयोग में करेगी।

आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास ने भी लांबा पर इस अभद्र टिप्पणी को लेकर केजरीवाल पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘अपनी पूर्व साथी और विधायक पर अश्लील टिप्पणी करके व उसके बेटे के बारे में निहायत गलीच बात कहकर आत्ममुग्ध बौने के पालित चिंटू ने अपने आका की ही औकात दिखाई है! अलका लांबा योद्धा है! उसकी विजय उसका स्वाभिमान है!’

आम आदमी पार्टी (आप) को पिछले विधानसभा चुनाव में हासिल की गई अद्भुत जीत को दोहराने का विश्वास है जहां उसने 70 में से 67 सीटों पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। 2019 के लोकसभा चुनाव में दिल्ली में सभी सातों सीटों पर जीतने वाली भारतीय जनता पार्टी को आप को हराने की उम्मीद है जबकि कांग्रेस पिछली बार के मुकाबले अपने प्रदर्शन में सुधार लाने की कवायद में है। गत विधानसभा चुनाव में उसे एक भी सीट नहीं मिली थी। आप को 2015 के चुनावों में 54.3 प्रतिशत वोट मिले थे जबकि भाजपा को 32 प्रतिशत और कांग्रेस को महज 9.6 प्रतिशत वोट मिले थे। मतगणना मंगलवार को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here