सपा प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए जाने पर खराब महसूस हुआ था, आपने उसका असर भी देखा : सीएम अखिलेश यादव

0

‘समाजवादी’ परिवार में मची अभूतपूर्व रार के बीच इस खानदान का अहम हिस्सा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए जाने पर उन्हें खराब महसूस हुआ था और इसका नतीजा भी सबके सामने आया।

भाषा की खबर के अनुसार, अखिलेश ने एक निजी चैनल के ‘चुनाव मंच’ कॉन्क्लेव में कहा, ‘‘मुझे (प्रदेश अध्यक्ष पद से) हटाए जाने पर खराब लगा और आपने उसका असर भी देखा. मैं नेताजी (सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव) से मिलकर यहां आया हूं. सपा एक परिवार है और पार्टी में कोई मतभेद नहीं है।’’

Also Read:  मैंने ही पार्टी का संविधान लिखा, झंडा बनाया और मुझे ही निकाल दियाः रामगोपाल यादव

मुख्यमंत्री ने कहा कि परिवार में हुए झगड़े के पीछे उनका हाथ नहीं है और इस बारे में आ रही खबरें बेबुनियाद हैं. उन्होंने कहा ‘‘यह कुर्सी की लड़ाई है. अगर कोई अच्छा आदमी मुझसे मुख्यमंत्री पद मांगे, तो मैं उसे देने को तैयार हूं.’’

Also Read:  समाजवादी कुनबे में मचे घमासान से मुलायम के निर्णय के खिलाफ सड़कों पर उतरा ‘युवा जोश’
Congress advt 2

अखिलेश ने स्पष्ट किया कि वह चाहते हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव के टिकट वितरण का अधिकार उन्हें दिया जाए. उन्होंने कहा, ‘‘मैं तो कहता हूं कि मैं चाचा को सारे विभाग वापस दे दूंगा, लेकिन टिकट वितरण का अधिकार अपने पास रखूंगा, क्योंकि चुनाव में परीक्षा तो मेरी ही होनी है।’’

Also Read:  AAP condemns lynching of man in Greater Noida

सपा प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाये जाने के बाद अपने चाचा वरिष्ठ काबीना मंत्री शिवपाल सिंह यादव के प्रति तल्ख रवैया अपनाकर पिछले दिनों उनके महत्वपूर्ण विभाग छीनने वाले अखिलेश ने कहा ‘‘यह चुनाव का समय है और हमें एक साथ आकर काम करना चाहिए. रामगोपाल यादव, अखिलेश और शिवपाल यादव के बीच कोई झगड़ा नहीं है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here