अमित शाह के ‘कसाब’ वाले बयान पर अखिलेश का तंज, कहा- हम ‘क’ से कबूतर पढ़ते थे, लेकिन BJP वाले पता नहीं क्या पढ़ा रहे हैं

0

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के कसाब वाले बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए गुरुवार(23 फरवरी) को कड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि किताबों में हम ‘क’ से कबूतर पढ़ते थे, लेकिन बीजेपी पता नहीं ‘क’ से लोगों को क्या पढ़ा रही है?

गौरतलब है कि अमित शाह ने गोरखपुर के चौरीचौरा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश को ‘कसाब’ से मुक्ति दिलाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मेरे कसाब कहने का कोई और अर्थ न लगाएं। कसाब से मेरा मतलब है ‘क’ यानी कांग्रेस, ‘स’ यानी समाजवादी पार्टी और ‘ब’ यानी बहुजन समाज पार्टी।

साथ ही अखिलेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘श्मशान-कब्रिस्तान’ वाले बयान पर भी तंज कसते हुए कहा कि पीएम इतने बड़े पद पर बैठने के बावजूद भी हमसे झगड़ा कर रहे हैं। वह हार चुके हैं और इसलिए उनकी भाषा बदल गई है।

सपा प्रमुख ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी वाले कभी काम की बात नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि अगर पीएम विकास और काम पर बहस करना चाहते हैं तो उन्होंने जनता के लिए क्या काम किया और हमने क्या काम किया ये बताया जाए।

कांग्रेस ने भी की आलोचना

अखिलेश के अलावा कांग्रेस ने भी अमित शाह के बयान की तीखी आलोचना की है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि एक हारे हुए नेता की ऐसी ही सस्ती और छोटी भाषा हो सकती है। उन्होंने कहा कि शब्द संक्षेपण को खत्म किया जाना चाहिए और जिस तरीके से शाह ने कहा है वह बीजेपी की सांप्रदायिक मानसिकता को दर्शाता है जिसकी ‘कड़ी निंदा’ की जानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here