वायुसेना का परिवहन विमान 29 सवारियों के साथ लापता

0

भारतीय वायुसेना का एएन 32 परिवहन विमान आज लापता हो गया। इसमें चालक दल के छह सदस्यों समेत 29 लोग सवार हैं। विमान चेन्नई के निकट से पोर्ट ब्लेयर के लिए रवाना हुआ था और बंगाल की खाड़ी के उपर लापता हो गया।

भारतीय वायुसेना, नौसेना और तटरक्षक बल द्वारा व्यापक खोज एवं बचाव अभियान शुरू किया गया है जिसमें एक पनडुब्बी, आठ विमान और 13 पोत लगाए गए हैं। लापता विमान से इसके तंबारम हवाई ठिकाने से उड़ान भरने के 16 मिनट बाद सुबह 8 बजकर 46 मिनट पर आखरी बार रेडियो संपर्क हुआ था।
2013_11$img26_Nov_2013_AP11_26_2013_000002B-ll

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज शाम पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘ वह विमान अब भी लापता है। उसका पता लगाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं और सेवारत कर्मचारी उसमें सवार हैं।’’ इस विमान में सवार 29 लोगों में दो पायलटों और एक नेविगेटर समेत चालक दल के छह सदस्य शामिल हैं। इसके अलावा, एक अधिकारी समेत वायुसेना से 11 कर्मचारी, थलसेना से दो कर्मचारी, तटरक्षक बल से एक कर्मचारी और नौसेना से 9 कर्मचारी शामिल हैं।

भारतीय वायुसेना के प्रवक्ता विंग कमांडर अनुपम बनर्जी ने कहा, ‘‘ यह विमान अपनी नियमित कूरियर सेवा पर था। यह करीब 8:30 बजे तंबारम से उड़ा और इसे 11:30 बजे पोर्ट ब्लेयर पर उतरना था।’’ रक्षा सूत्रों ने बताया कि इस विमान से जब आखिरी बार संपर्क स्थापित हुआ, उस समय यह करीब 23,000 फुट की उंचाई पर था। यह विमान दोबारा ईंधन भरे बगैर चार घंटों तक उड़ सकता है।

जहां वायुसेना ने दो एएन32 विमान के अलावा एक सी130 विमान को इस खोज अभियान में लगाया है, नौसेना ने रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण पोर्ट ब्लेयर से दो पी8आई समुद्री निगरानी और पनडुब्बी-रोधी युद्धक विमान लगाए हैं।

नौसेना ने राहत और बचाव अभियान में दो डोर्नियर विमान और 12 पोतों को लगाया है।

नौसेना के प्रवक्ता कैप्टन डी.के. शर्मा ने कहा, ‘‘ नौसेना ने खोज और बचाव अभियान के लिए बंगाल की खाड़ी में पूरी ताकत झोंक दी है।’’ तटरक्षक बल ने दो डोर्नियर के अलावा चार पोत रवाना किए हैं।

(पीटीआई-भाषा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here