केजरीवाल के आरोपों को AIADMK के मुखपत्र ने दोहराते हुए कहा- यूपी चुनावों में इस्तेमाल होने वाले EVM आरके नगर उपचुनाव के लिए लाए गए

0

दिल्ली के मुख्यंमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा EVM मशीनों की विश्वसनियता पर सवाल उठाने के बाद अब AIADMK ने भी मंगलवार (4 मार्च) को आरोप लगाया कि इस साल फरवरी-मार्च में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल होने वाले ईवीएम को आरके नगर में 12 अप्रैल को होने वाले उपचुनाव के लिए तमिलनाडु में लाया गया है।

पार्टी के मुखपत्र में डॉ नामदू एमजीआर ने दावा किया है कि चेन्नई पुलिस आयुक्त एस जॉर्ज को हटाने के पीछे एक साजिश थी। साथ राज्य के पूर्व सीएम ओ पन्नीरसेल्वम को वाई-कैटेगरी की सुरक्षा देने पर भी सवाल उठाया है। बता दें विवाद बढ़ने के बाद आर के नगर में चुनाव अधिकारी को स्थानांतरित कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में इस्तेमाल किए गए ईवीएम मशीनों के लिए और ओ पन्नीरसेल्वम को वाई श्रेणी की सुरक्षा आर.के. नगर द्वारा उपनिवेशों के लिए खरीदी गई है। निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं को स्थानांतरित करने के लिए केवल एक चीज छोड़नी है और आरएसएस और संघ को यहां लाओ और उन्हें वोट दें।

मुखपत्र में सवाल उठाया गया है कि आखिर केंद्र सरकार ने ओ पन्नीरसेल्वम को वाई-श्रेणी की सुरक्षा क्यों दी है? क्या उन्हें अन्नाद्रमुक में दरार के लिए पुरस्कृत किया गया है?क्या उन्होंने खनन मामले में शेखर रेड्डी के खिलाफ कभी संघर्ष किया था? क्या उन्होंने तमिलनाडु के लोगों या तमिलों के लिए अपनी संपत्ति दान की थी? ओ पन्नीरसेल्वम को वाई-श्रेणी सुरक्षा प्रदान करने की आवश्यकता क्या है।

बता दें कि,1987 बैच के आईपीएस अधिकारी करन सिंह को नए शहर पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया। आरके नगर की सीट पिछले साल दिसंबर में जयललिता की मौत के बाद खाली हुई थी।

‘जनता का रिपोर्टर’ ने खुलासा किया था कि मध्य प्रदेश के भिंड में एक अभ्यास कार्यक्रम के दौरान वीवीपीएटी से केवल बीजेपी के निशान वाली पर्चियां ही निकल रही थीं। भिंड में 9 अप्रैल को उपचुनाव होना है और यह अभ्यास के लिए किया जा रहा था।

वीडिया में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि भिंड जिले में विधानसभा उपचुनाव की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचीं मुख्य निर्वाचन अधिकारी सलीना सिंह ने वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रायल के डेमो के लिए दो अलग-अलग बटन दबाए तो कमल के फूल की पर्ची निकली।

उसके बाद चुनाव अधिकारी ने पत्रकारों को कहा कि समाचार पत्रों में यह न्यूज मत देना, नहीं तो आप लोगों को पुलिस थाने में हिरासत में रखा जाएगा। ईवीएम मशीन में कथित गड़बड़ी वाले इस खबर पर विपक्षी पार्टियां ईवीएम पर सवाल उठा रही हैं।

मध्य प्रदेश के भिंड में ईवीएम मशीन में कथित छेड़छाड़ के मामले में चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए भिंड के जिलाधिकारी इलैया राजा टी और एसपी अनिल सिंह कुशवाह को हटा दिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here