महाराष्ट्र के बाद गोवा में BJP को झटका देगी शिवसेना? संजय राउत बोले- जल्द ही गोवा में दिखेगा चमत्कार

0

महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व में गठबंधन सरकार बनने के बाद अब पार्टी अपनी पुरानी दोस्त रह चुकी भाजपा को एक और बड़ा झटका देने की तैयारी कर रही है। शिवसेना के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को यह कहकर हलचल पैदा कर दी है कि महाराष्ट्र की राजनीति खत्म हुई अब हम सभी गोवा में व्यस्त हैं। उन्होंने कहा है कि गोवा में एक नया राजनीतिक समीकरण आकार ले रहा है और जल्द ही महाराष्ट्र की तरह गोवा में चमत्कार हो सकता है।

महाराष्ट्र

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, मीडिया से बात करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि, ‘गोवा फॉरवर्ड पार्टी के अध्यक्ष और राज्य के पूर्व डेप्युटी सीएम विजय सरदेसाई अपने तीन विधायकों के साथ शिवसेना के साथ गठबंधन करने जा रहे हैं। गोवा में एक नया राजनीतिक फ्रंट आकार ले रहा है, जैसा कि महाराष्ट्र में हो चुका है। जल्दी ही गोवा में आपको एक चमत्कार दिखाई देगा।’ संजय राउत ने आगे कहा कि, ‘यह देश भर में होगा। महाराष्ट्र के बाद अब गोवा है, फिर हम अन्य राज्यों में जाएंगे। हम इस देश में एक गैर-भाजपा राजनीतिक मोर्चा बनाना चाहते हैं।’

राउत ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को चुनावी हलफनामे में दो आपराधिक मामले छुपाने की वजह से मिले समन पर कहा, ‘मुझे मालूम नहीं। हम लोग अभी गोवा की राजनीति में व्यस्त हैं। महाराष्ट्र की राजनीति खत्म।’

संजय राउत के गोवा को लेकर दिए बयान के बाद उनकी गोवा में सहयोगी पार्टी गोवा फॉरवर्ड पार्टी के प्रमुख और गोवा के पूर्व डिप्टी सीएम विजई सरदेसाई ने कहा कि घोषणा करने के बाद सरकार बदलती नहीं है। यह अचानक होता है। महाराष्ट्र में जो हुआ, वह गोवा में भी होना चाहिए। विपक्ष को साथ आना चाहिए। हम संजय राउत से मिले। महा विकास अघाड़ी का गठन किया गया है, जिसे गोवा तक भी बढ़ाया जाना चाहिए।

गोवा के उप-मुख्यमंत्री मनोहर अजगांवकर ने गोवा फॉर्वर्ड पार्टी के साथ शिवसेना के गठबंधन को लेकर कहा कि, ‘संजय राउत ने विजय सरदेसाई के साथ गठबंधन करके चुनाव में उतरेंगे। उन्हें पता चल जाएगा कि गोवा के लोग क्या हैं। संजय राउत सपने देख रहे हैं। सच्चाई यह है कि गोवा के लोगों के पास एक मजबूत सरकार है।’

उन्होंने आगे कहा, ‘भाजपा सरकार के काम को देखते हुए, कांग्रेस के 10 विधायक भाजपा में आए। प्रमोद सावंत मनोहर पर्रिकर के विजन को आगे बढ़ा रहे हैं। हम न केवल इस पांच साल के कार्यकाल को पूरा करेंगे, बल्कि अगले पांच साल का कार्यकाल भी हमें ही मिलेगा।’

महाराष्ट्र में शिवसेना और भाजपा के बीच 1989 में गठबंधन हुआ था लेकिन इस बार के विधानसभा चुनाव में स्पष्ट बहुमत हासिल करने के बावजूद दोनों की दोस्ती टूट गई। शिवसेना ने भाजपा से मुख्यमंत्री पद की डिमांड की थी। शिवसेना की अगुआई में सरकार बनने के बाद संजय राउत काफी खुश हैं।

राउत ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘हम शतरंज में कुछ ऐसा कमाल करते हैं/ कि बस पैदल ही राजा को मात करते हैं’। हालांकि, राउत ने अपने ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया है लेकिन माना जा रहा है कि इस बार भी उनके निशाने पर भाजपा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here