मुंबई: मशहूर अभिनेत्री आशालता वाबगांवकर का कोरोना वायरस से निधन, ‘जंजीर’ में बनीं थीं अमिताभ बच्चन की मां

0

प्रख्यात मराठी, हिंदी फिल्मों और रंगमंच की कलाकार आशालता वाबगांवकर का मुंबई के सतारा के एक निजी अस्पताल में कोरोना वायरस (कोविड-19) से निधन हो गया।

आशालता वाबगांवकर

मशहूर अभिनेत्री आशालता वाबगांवकर चार दिनों तक कोरोना वायरस से लड़ती रहीं। आशालता के नाम से मशहूर गोवा में पैदा हुई अभिनेत्री को कोविड-19 का संक्रमण एक सीरियल शूट के दौरान हुआ था। पिछले सप्ताह एक निजी अस्पताल में भर्ती होने के दौरान वह गंभीर हालत में थी। उन्होंने मुंबई के सतारा अस्पताल में मंगलवार सुबह करीब 4.45 मिनट पर आखिरी सांस ली, वह 79 साल की थीं।

परिवार के अनुसार, वे सातारा में अपने मराठी सीरियल ‘आई कलुबाई’ की शूटिंग करने पहुंची थीं। यहां कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद उनका टेस्ट करवाया गया। संक्रमण की पुष्टि और सांस लेने में दिक्कत के बाद उन्हें आईसीयू में भर्ती करवाया गया था। कोरोना की वजह से आशालता का अंतिम संस्कार सतारा में ही किया जाएगा।

आशालता वाबगांवकर मराठी और हिंदी फिल्मों की मशहूर अभिनेत्रियों में से एक थीं। उन्होंने कई फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से बड़े पर्दे पर अमिट छाप थोड़ी थी। उनका जन्म 2 जुलाई साल 1941 को गोवा में हुआ था। आशालता वाबगांवकर ने 100 से ज्यादा हिंदी और मराठी फिल्मों में काम किया था। उन्होंने मराठी फिल्मों के लिए गाने भी गाए थे।

बॉलीवुड में पहली बार वे बासु चटर्जी की फिल्म ‘अपने पराए’ में नजर आईं। इसके लिए उन्हें ‘बंगाल क्रिटिक्स अवार्ड’ और बेस्ट सह कलाकार का फिल्मफेयर मिला था। फिल्म ‘जंजीर’ में उन्होंने अमिताभ बच्चन की सौतेली मां का किरदार निभाया था। आशालता ने अंकुश, अपने पराए, आहिस्ता आहिस्ता, शौकीन, वो सात दिन, नमक हलाल और यादों की कसम समेत कई शानदार हिन्दी फिल्मों में काम किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here