कांग्रेस नेता खुशबू ने ट्रोलर्स को दिया जवाब, बोलीं- ‘मुस्लिम पैदा हुई थी और मरते दम तक मुसलमान रहूंगी, नहीं बदलूंगी धर्म’

0

दक्षिण भारत की मशहूर अभिनेत्री और कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता खुशबू सुंदर ने उनके धर्म को लेकर ट्रोल करने वालों को करारा जवाब देते हुए कहा कि वह एक मुस्लिम है और मरते दम तक मुसलमान रहेंगी। उन्होंने कहा कि वह कभी-भी धर्म नहीं बदलेंगी, क्योंकि यह कोई अहमियत नहीं रखता। दरअसल, हाल ही में खुशबू ने नागा साधुओं पर तंज सकते हुए एक ट्वीट किया था, जिस पर काफी विवाद हुआ था। अपने ट्वीट में खुशबू ने नागा साधुओं की तस्वीर साझा करते हुए लिखा था कि बीजेपी शासित विधानसभाएं कुछ दिनों में ऐसी ही नजर आएंगी। हाल ही में मध्यप्रदेश में इसी तरह के लोगों को राज्यमंत्री बनाया गया है। क्या कहते हैं अमित शाह जी…??

खुशबू के इस ट्वीट पर नाराजगी व्यक्त करते हुए बीजेपी नेता तरुण विजय ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘तुम सिर्फ अपने राजनैतिक विरोधियों का मजाक नहीं उड़ा रही हो, बल्कि तुम पूर्वजों, संस्कृति, अपने विश्वास और आस्था का भी मजाक उड़ा रही हो। तुम्हारी अज्ञानता सभी के सामने आ गई है, जो लोग हिंदुओं से जुड़ी चीजों से नफरत करते हैं, तुम में और इस्लामिक आक्रमणकारियों में कोई अंतर नहीं हैं।’

बता दें कि मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह सरकार द्वारा कंप्यूटर बाबा और भय्यूजी महाराज समेत पांच संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने के बाद बवाल मच गया है। खास बात यह है कि जिन संतों को राज्य मंत्री का दर्जा दिया गया है वे मध्य प्रदेश में करोड़ों पौधे लगाने के दावे को घोटाला करार देकर ‘नर्मदा घोटाला रथ यात्रा’ निकालने वाले थे।

जिसके बाद शिवराज सरकार ने इन्हें मनाने के लिए नर्मदा नदी के लिए जन-जागरूकता अभियान चलाने के लिए एक विशेष समिति बनाई है। इसमें पांच संत सदस्य है और सभी को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है। इनमें नर्मदानंद महाराज, हरिहरानंद महाराज, कम्प्यूटर बाबा, भय्यू महाराज एवं पंडित योगेंद्र महंत शामिल हैं।

‘मुस्लिम पैदा हुई थी और मरते दम तक मुसलमान रहूंगी’

वहीं, इस ट्वीट को लेकर कुछ बीजेपी और आरएसएस समर्थक कांग्रेस नेता खुशबू को ट्रोल करने लगे। जिसके बाद उन्होंने टोलर्स को जवाब देते हुए ट्वीट कर कहा है कि वह मुस्लिम पैदा हुई थी और मरेंगी भी मुस्लिम ही। खुशबू ने लिखा, ‘मैं पैदा भी मुस्लिम हुई थी और मुस्लिम ही मरुंगी…मैं अपना धर्म कभी नहीं बदलूंगी, क्योंकि यह कोई अहमियत नहीं रखता। मैं धर्म के नियमों के अनुसार नहीं जी सकती। मैं करुणा, मानवता, समानता, समान अधिकार, सशक्तिकरण खासकर महिलाओं का सशक्तिकरण, सद्भाव, विविधता और खुशी के साथ जीऊंगी। मेरा मानना है कि इसके लिए बीजेपी के नियम अलग हैं।’

आपको बता दें कि खुशबू के जन्म का नाम नखत खान है। जिस वजह से पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर उन्हें लगातार निशाना बनाया जा रहा है। सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स द्वारा आरोप लगाया लगाया जा रहा है कि खुशबू अपनी असली पहचान छुपा रही हैं। कुछ बीजेपी समर्थक ट्रोलर्स ने तो उन्हें पाकिस्तानी तक करार दे दिए थे।

हालांकि इस पर खुशबू ने ट्रोलर्स को करारा जवाब देते हुए कहा था कि, ‘कुछ ट्रॉलरों ने मेरे बारे में एक खोज की है कि मेरा नाम नखत खान है, यूरेका! मूर्खो ये मेरा नाम (खुशबू) मेरे माता-पिता द्वारा मुझे दिया गया है, और हां, मैं खान हूं, अब क्या हुआ? देर से अफवाहें फैलाने वालो, उठो, तुम 47 साल लेट हो।’ इसके साथ ही ट्वीट में खुशबू ने ट्रोलर्स पर हंसते हुए 4 स्माइली भी लगाए थे।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here