तेलंगाना में महिला तहसीलदार को जिंदा जलाने के आरोपी की भी मौत

0

जमीन विवाद मामले में हैदराबाद के निकट एक महिला तहसीलदार को उसी के कार्यालय में कथित तौर पर जिंदा जलाने वाले व्यक्ति की एक अस्पताल में गुरुवार को मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। चार नवंबर को के सुरेश नामक व्यक्ति ने महिला तहसीलदार विजया रेड्डी को कथित तौर पर आग लगा दी थी। महिला की मौत हो गई थी।

तहसीलदार

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) से कहा, ‘‘दोपहर 3.25 बजे उपचार के दौरान सुरेश की अस्पताल में मौत हो गई।’’ आरोपी ने तहसीलदार के कार्यालय पहुंच कर उनके ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। इस घटना में आरोपी भी जल गया था। पुलिस ने बताया कि मामले की वैज्ञानिक तरीके से जांच चल रही है और वे हर कोण से मामले की जांच कर रहे है ताकि उन कारणों का पता लगाया जा सके कि किन कारणों से सुरेश ने यह कदम उठाया।

उन्होंने बताया कि सुरेश के परिवार से पूछताछ की जा रही है और जमीन से जुड़े कागजात की भी जांच की जा रही है। सुरेश ने पुलिस को बताया था कि वह किसान है और भवन निर्माण का कारोबार करता है। उसने बताया था कि उसके और उसके भाई के पास संयुक्त रूप से सात एकड़ कृषि भूमि थी जो बाद में एक किराएदार को स्थानांतरित कर दी गई थी। इससे विवाद शुरू हुआ और मामला उच्च न्यायालय में है। उसके परिवार का दावा है कि उसने अकेले घटना को अंजाम नहीं दिया होगा। उसे अन्य लोगों ने उकसाया होगा।

गौरतलब है कि, महिला तहसीलदार को उनके कार्यालय में जलाकर मारने की घटना के अगले दिन पांच नवंबर को उनके ड्राइवर की भी मौत हो गई। ड्राइवर उन्हें बचाने की कोशिश में जल गया था और गंभीर अवस्था में उसे अस्पताल में भरती कराया गया था। इस घटना को लेकर पूरे तेलंगाना में राजस्व विभाग के कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन किया और मंगलवार को हड़ताल पर रहे। वहीं नेताओं ने घटना की निंदा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here