कोर्ट रूम में धमकी को लेकर आम आदमी पार्टी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह को लिखा पत्र

0

दिल्ली जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) विवाद में वित्त मंत्री अरूण जेटली की तरफ से दायर आपराधिक मानहानि मामले में आम आदमी पार्टी(आप) के एक नेता ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर कोर्ट रूप के अंदर उनको और अन्य को दी गई कथित धमकी मामले में कार्रवाई किए जाने की मांग की है।

केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने गृह मंत्री को लिखे पत्र में कहा गया है कि घटना के बाद उनके सहित मामले के सभी आरोपी स्तब्ध और दुख की दशा में हैं। पत्र की एक प्रति दिल्ली के पुलिस आयुक्त को भी भेजी गई है।

अपने पत्र में घटना का जिक्र करते हुए चड्ढा ने कहा कि जब सुनवाई चल रही थी तो वकील के वेश में एक व्यक्ति ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके वकीलों सहित आप नेताओं को जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने दावा किया कि व्यक्ति ने उन्हें धमकी देते हुए तेज आवाज में अदालत कक्ष के बाहर उनसे निपटने की धमकी दी।

उन्होंने कहा कि आरोपी के वकीलों के आग्रह पर मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट (सीएमएम) ने व्यक्ति को अपनी पहचान बताने के लिए कहा और उसने अपना नाम विवेक शर्मा बताया। चड्ढा ने कहा कि उनके वकीलों ने इस बारे में सीएमएम से औपचारिक शिकायत की है जिन्होंने मामले को रिकॉर्ड में ले लिया।

उन्होंने अपने पत्र में कहा कि पूरी घटना बताती है कि एक शक्तिशाली केंद्रीय नेता का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील आरोपियों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं और अगर इस तरह की घटना अदालत परिसर के अंदर हो सकती है तो यह महानगर की खराब कानून-व्यवस्था की स्थिति दर्शाती है जो दिल्ली पुलिस की जवाबदेही है और यह केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है।

उन्होंने आरोप लगाया कि शर्मा अपनी तरफ से यह हरकत नहीं कर रहे थे बल्कि अपने राजनीतिक आकाओं के इशारे पर ऐसा कर रहे थे। चड्ढा ने कहा कि उनका कृत्य आपराधिक धमकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here