केजरीवाल को एक और झटका, विधायक वेद प्रकाश के बाद महिला इकाई की उपाध्‍यक्ष सीमा कौशिक ने भी छोड़ा AAP का दामन

0

दिल्ली एमसीडी चुनाव में जी जान से जुटी आम आदमी पार्टी (AAP) को एक के बाद एक झटका लगातर लग रहा है।आम आदमी पार्टी के अंदर कलह जारी है। AAP विधायक राजेश ऋषि के द्वारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर संकतों में सवाल खड़े करने और विधायक वेद प्रकाश के बीजेपी में शामिल होने के बाद गुरुवार को आम आदमी पार्टी को एक और झटका लगा है। पार्टी की महिला इकाई की उपाध्‍यक्ष सीमा कौशिक ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है।

सीमा कौशिक
photo- The Indian Express

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सीमा कौशिक ने कहा कि पार्टी के ‘शीर्ष नेतृत्‍व में भ्रष्टाचार’ की वजह से AAP के असली और समर्पित कार्यकर्ता तकलीफ झेल रहे हैं। वेद प्रकाश ने भी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल को चापलूसों के घिरे रहने का आरोप लगाया था। तो वहीं जनकपुरी से विधायक राजेश ऋषि ने ट्विटर पर केजरीवाल को चापलूसों से दूर रहने की सलाह दी थी।

AAP विधायक राजेश ऋषि ने ट्विटर पर अरविंद केजरीवाल के नाम उन्‍होंने एक संदेश लिखा, उन्होंने लिखा है, जिस राजा में घमंड होता है वह राजा अपने राज्य को खुद डुबो देता है। साथ ही उन्होंने कहा कि, कुमार विश्‍वास ही पार्टी में इकलौते ऐसे शख्‍स हैं जिनमें सच के लिए खड़े होने की ताकत है। मुझे उम्‍मीद है कि अब मेरा संदेश पहुंचेगा।” राजेश ऋषि ने कुमार विश्वास को टैग कर ट्वीट किया था।

राजेश ने लिखा, ‘जैसे कड़वी दवा कैंसर ठीक करती है, वैसे ही कड़वी सलाह-चाटुकारों से घिरा राजा, अपना अस्तित्व भी नहीं बचा पाता है। सूत्रों के अनुसार एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी ज‌िस आधार पर ट‌िकट बंटवारा कर रही है उससे जनकपुरी के आप ‌व‌िधायक राजेश ऋष‌ि नाराज बताए जा रहे हैं। जनसत्ता कि ख़बर के अनुसार, हालांकि ऋषि ने साफ किया कि वह किसी और पार्टी में शामिल होने नहीं जा रहे। विधायक राजेश ऋषि ने पार्टी के बड़े नेता है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी बवाना से आम आदमी पार्टी विधायक वेद प्रकाश ने विधानसभा से इस्तीफा देते हुए भाजपा ज्वाइन कर लिया है। वेद प्रकाश ने आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल को कुछ लोगों ने घेर रखा है। जो उन्हें कानों में बता दिया जाता है, वे यकीन कर लेते हैं।

केजरीवाल को नहीं पता कि क्या चल रहा है। साथ ही वेद प्रकाश ने कहा कि दिल्ली में हर अदमी ठगा सा महसूस कर रहा है। दिल्ली सरकार पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा क‌ि वह सिर्फ यही देखते हैं कि पीएम मोदी को और उप राज्यपाल को कैसे बदनाम किया जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here