AAP ने ‘नमो टीवी चैनल’ को लेकर चुनाव आयोग से की शिकायत, पूछे ये सवाल

2

दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के ‘नमो टीवी चैनल’ को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा से इसकी शिकायत की है।

नमो टीवी

आप के विधि प्रकोष्ठ की ओर से सोमवार को आयोग के समक्ष की गयी शिकायत में पूछा गया है कि क्या आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद किसी राजनीतिक दल को अपना चैनल जारी रखने की अनुमति दी जा सकती है। अगर चुनाव आयोग से कोई इजाजत नहीं ली गई थी तो आयोग ने इस पर क्या कार्रवाई की?

पार्टी ने चैनल का नाम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संक्षिप्त नाम ‘नमो’ पर रखे जाने का हवाला देते हुये कहा है कि अगर आयोग की अनुमति के बिना नमो चैनल शुरु किया गया है तो इस पर आयोग ने क्या कार्रवाई की है?

शिकायत में आप ने आयोग से यह भी पूछा है कि इस चैनल पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों पर किसकी निगरानी होगी और क्या बीजेपी ने चैनल पर प्रसारित कार्यक्रमों और प्रसारण लागत को प्रमाणित कराने के लिये आयोग की मीडिया प्रमाणन समिति से संपर्क किया है? अगर ऐसा नहीं किया गया है तो चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के बारे में आयोग ने भाजपा से इसका कारण पूछा या नहीं?

पार्टी ने इस मामले पर गंभीर चिंता प्रकट करते हुये आयोग से इस पर यथाशीघ्र कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। बता दें कि भारत में 11 अप्रैल से 19 मई तक 7 चरणों में आम चुनाव के लिए मतदान होना है और 23 मई को नतीजों का ऐलान होना है। (इंपुट: भाषा के साथ)

2 COMMENTS

  1. You can complain a hobby or for record, but ECI is not going object to anything for whatever BJP does. It shall find an explanation even if BJP fails to offer one.

  2. AAP complaint against NAMO TV to Election Commission of India.
    1. How is this channel running ?
    2. Who gave permission?
    3. Whether EC knows about any such channel ??
    Q1-It is a technical question.
    Q2-How would EC know? Complainant should find out and tell.
    Q3-No.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here