गुजरात चुनाव: कांग्रेस के बाद अब AAP भी दलित नेता जिग्नेश मेवानी के खिलाफ नहीं उतारेगी उम्मीदवार, केजरीवाल ने दी शुभकामनाएं

0

आम आदमी पार्टी (आप) ने सोमवार (27 नवंबर) को कहा कि वह दलित नेता जिग्नेश मेवानी के खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारेगी जो गुजरात के वडगाम विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। बता दें AAP से पहले कांग्रेस ने भी उनका समर्थन करने की घोषणा की है। बनासकांठा जिले में वडगाम सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है।

PHOTO: @jigneshmevani80

पार्टी ने बयान जारी कर कहा कि आम आदमी पार्टी ने वडगाम से किसी उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारने का निर्णय किया है जहां से दलित नेता जिग्नेश मेवानी निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। इसने कहा कि उनकी अपील पर पार्टी का मानना है कि लड़ाई भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और जिग्नेश मेवानी के बीच होनी चाहिए।

कांग्रेस ने मेवानी की उम्मीदवारी का समर्थन किया है और अपने निवर्तमान विधायक मणिभाई वाघेला से कहा है कि दलित नेता के साथ हुए समझाौते के तहत इस सीट से वह चुनाव नहीं लड़ें। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने 34 वर्षीय दलित कार्यकर्ता को शुभकामनाएं दी हैं। केजरीवाल ने ट्वीट किया, शुभकामनाएं जिग्नेश।

मेवानी ने भी ट्विटर पर अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की। उन्होंने लिखा कि दोस्तों, मैं गुजरात के बनासकांठा जिले की वडगाम-11 सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहा हूं। हम लड़ेंगे, हम जीतेंगे। मेवानी ने संवाददाताओं से कहा कि बीजेपी का विरोध करने वाले सभी राजनीतिक दल कह रहे हैं कि साारूढ़ बीजेपी के खिलाफ जिग्नेश मेवानी लड़ाई का प्रतीक है और उनका मानना है कि इन दो लोगों के बीच ही लड़ाई होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमने सभी राजनीतिक दलों से अपील की है कि उसका समर्थन करें। बता दें कि आप ने गुजरात में अभी तक 30 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की है। बता दें कि गुजरात विधानसभा की कुल 182 सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव कराए जाएंगे। पहले चरण का चुनाव 9 दिसंबर, जबकि दूसरे चरण का चुनाव 14 दिसंबर को होगा। जबकि मतगणना 18 दिसंबर को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here