दिल्ली: मतदान से ठीक पहले AAP को बड़ा झटका, पार्टी विधायक अनिल वाजपेयी ने केंद्रीय मंत्री विजय गोयल की मौजूदगी में थामा बीजेपी का दामन

0

दिल्ली में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (आप) को एक बड़ा झटका लगा है। पूर्वी दिल्ली की गांधी नगर सीट से AAP विधायक अनिल वाजपेयी शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) में शामिल हो गए। अनिल वाजपेयी ने केंद्रीय मंत्री विजय गोयल की उपस्थिति में बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की।

बता दें कि, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने एक दिन पहले ही दावा कर दिया था कि AAP के 14 विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं, जो ‘निराशा और अपमान’ की वजह से सत्तारूढ़ पार्टी छोड़ना चाहते थे।

अनिल वाजपेयी
फोटो: @iMohit_Sharma

विजय गोयल ने गुरुवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा था, “आज प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि मनीष सिसोदिया झूठा आरोप लगा रहे है कि उनके विधायकों को भाजपा 10-10 करोड़ रूपये ऑफर कर रही है। हां 7 की जगह 14 ऐसे विधायक जरूर है जो समय-समय पर कहते है की उन्हें आम आदमी पार्टी में अब घुटन-निराशा होती है और वे पार्टी छोड़ने को तैयार है।”

बीजेपी नेता के इस दावे पर आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पलटवार करते हुए लिखा था कि, “गोयल साहिब, बात कहाँ फँसी है? आप कितना दे रहे हो? वो कितना माँग रहे हैं?” एक अन्य ट्वीट में केजरीवाल ने लिखा, “मोदी जी, आप हर विपक्षी पार्टी के राज्य में MLA ख़रीद कर सरकारें गिराओगे? क्या यही आपकी जनतंत्र की परिभाषा है? और इतने MLA ख़रीदने के लिए इतना पैसा कहाँ से लाते हो? आप लोग पहले भी कई बार हमारे MLA ख़रीदने की कोशिश कर चुके हो। AAP वालों को ख़रीदना आसान नहीं”

बता दें कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को आरोप लगाया था कि बीजेपी सात विधायकों को पाला बदलने के लिए 10-10 करोड़ रुपये की पेशकश कर रही है। सिसोदिया ने ट्वीट कर लिखा था, “दिल्ली में हार के डर से घबराई बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के 7 विधायकों को ख़रीदने के लिए 10-10 करोड़ का ऑफ़र दिया है. मोदी जी आपको शोभा नहीं देता कि आप विधायक ख़रीदकर चुनाव लड़ना चाहते हैं. अरे! काम के दम पे मैदान में आइए ना.” हालांकि, गोयल ने सिसोदिया के आरोपों का खंडन किया।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आम आदमी पार्टी (आप) के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि जब मतदान में 10 दिन से भी कम समय बचा हो, ऐसे में पार्टी के विधायक का बीजेपी में जाना केजरीवाल के चिंता का सबब जरूर है।बता दें कि, दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर मतदान 12 मई का छठे चरण में होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here