AAP मंत्री का अमित शाह को खुला पत्र, पूछा क्या महबूबा मुफ़्ती मुख्यमंत्री बन्ने से पहले ‘भारत माता की जय’ कहेंगी?

0

दिल्ली सरकार में पर्यटन मंत्री, कपिल मिश्रा ने शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के नाम एक खुला पत्र लिखकर कई तीखे प्रश्न पूछे ।

उनके द्वारा पूछे गए चार सवालों में पहला ये था कि क्या पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण करने से पूर्व ‘भारत माता की जय’ का गुणगान करेंगी?

मिश्रा का ये पत्र पीडीपी और भाजपा के जम्मू कश्मीर में साझा सरकार बनाये जाने की घोषणा के बाद आया है ।

Also Read:  सूरत में अमित शाह की रैली में पटेल समुदाय का गुस्सा, भाजपा अध्यक्ष अपना भाषण सिर्फ 'चार मिनट' में समाप्त करने को मजबूर

भाजपा के कई नेताओं और आरएसएस ने हाल के दिनों में ‘भारत मात की जय’ न बोलने वालों की तुलना देश द्रोहियों से की थी ।

ये विवाद तब तूल पकड़ गया जब AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भारत मात की जय कहने से इंकार कर दिया था । उनके ऐसा कहने पर भाजपा के  कई दिग्गज नेताओं ने उन्हें पाकिस्तान जाने की सलाह दे डाली थी ।

Also Read:  "जब मोदी साहब की लहर आई, विरोधी तो डूबे, सिद्धू को भी डुबो दिया"

मिश्रा का दूसरा प्रश्न था, ” क्या महबूबा मुफ़्ती जम्मू कश्मीर की कुर्सी पर बैठने से पहले एक बार पूरे देश के सामने ‘अफ़ज़ल गुरु आतंकवादी था, अफ़ज़ल गुरु मुर्दाबाद’ ऐसा नारा लगाएंगी? अगर नहीं तो क्या मजबूरी है कि आप उनके साथ सरकार बनाने को इतने बेचैन हैं ?”

JNU में अफ़ज़ल गुरु के समर्थन में कथित तौर पर नारा लगाए जाने को मुद्दा बनाकर भाजपा ने अपने विरोधियों खासकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा था और इनपर देश विरोधी ताक़तों के साथ मिले होने का आरोप लगाया था ।

Also Read:  नोटबंदी : शादी के लिए 2.5 लाख रुपये निकालने की सोच रहे हैं, तो पढ़ लें RBI की ये कड़ी शर्तें

ऐसा लगता है कि मिश्रा ने अपने इस पत्र के ज़रिये राष्ट्रवाद के मुद्दे पर भाजपा के विरोधाभास का पर्दाफाश करने की कोशिश की है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here