“AAP केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाना चाहती है”

0

आप के निलंबित सांसद हरिंद्र सिंह खालसा ने आप के पंजाब संयोजक पद से सुच्चा सिंह छोटेपुर को हटाए जाने को ‘साजिश’ करार दिया और आरोप लगाया कि 2017 के विधानसभा चुनावों के बाद अरविंद केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के लिए रास्ता साफ किया जा रहा है.

खालसा ने दावा किया, ‘यह छोटेपुर को पंजाब संयोजक पद से हटाकर उन्हें पार्टी से बाहर निकालने की साजिश है. सुच्चा सिंह छोटेपुर को हटाकर आप ने केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के लिए रास्ता साफ किया है.’ उन्होंने कहा, ‘आप केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाना चाहती है, इसलिए उन्होंने ऐसा कर रास्ता बनाया है. दिल्ली में केजरीवाल के पास मेयर जैसी ताकत भी नहीं है.’

Also Read:  No order to deny accommodation to guests from J&K: Delhi police to jantakareporter.com

वहीं मनजीत सिंह रंधावा के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी के बागी समूह ने छोटेपुर को समर्थन दिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर ‘तानाशाह जैसा बर्ताव’ करने का आरोप लगाया.

भाषा की खबर के मुताबिक़, समूह ने यह भी कहा कि वह आप द्वारा आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए घोषित उम्मीदवारों की सूची को खारिज करते हैं. मीडियाकर्मियों से अमृतसर में बातचीत में रंधावा ने कहा कि उन्होंने पहले ही अपनी पार्टी – ‘आप पंजाब’ का गठन कर लिया है और आप के पूर्व पंजाब संयोजक छोटेपुर को ‘तहेदिल’ से समर्थन दिया.

Also Read:  मुख्यमंत्री के तौर पर पंजाब में केजरीवाल हैं 72 % लोगों की पसंद, 'आप' को 50 % लोगों का समर्थन

छोटेपुर को ईमानदार व्यक्ति बताते हुए उन्होंने कहा कि केजरीवाल को पंजाब की संस्कृति और उसके भौगोलिक महत्व का पता नहीं है. रंधावा ने आरोप लगाया कि केजरीवाल अब ‘षड्यंत्रकारियों’ का राजनैतिक संगठन बन गए हैं और किसी भी कीमत पर पंजाब में सत्ता हासिल करने की उनकी प्रच्छन्न मंशा है.

Also Read:  जानता का रिपोर्टर को मिला सबूत, 'चिकनगुनिया' से मरा अखलाक हत्याकांड का आरोपी रवि

उन्होंने कहा कि ‘आप पंजाब’ आगामी चुनाव के लिए अपना अलग घोषणा पत्र तैयार करेगी और इसे आने वाले दिनों में इसका ऐलान किया जाएगा. बागी नेता ने कहा कि इसके बाद उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की जाएगी और छोटेपुर पार्टी के पंजाब में अध्यक्ष होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here