सोशल मीडिया: ‘आमिर खान की पत्नी शायद अब भारत में पहले से कहीं ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रही होंगी’

0

बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान वैसे तो आमतौर पर किसी अवॉर्ड फंक्शन में नजर नहीं आते हैं, लेकिन सोमवार(24 अप्रैल) को 16 साल बाद किसी अवॉर्ड फंक्शन में शिरकत की। इस दौरान आमिर खान को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया। अवॉर्ड फंक्शन में आमिर खान को देखकर कई लोग हैरान रह गए।

फोटो: HT

यही वजह है कि मंगलवार सुबह से ही आमिर खान सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर इसे लेकर खुब चर्चा हो रही है। लोग सबसे अधिक उस तस्वीर की चर्चा कर रहे हैं, जिसमें RSS प्रमुख मोहन भागवत, आमिर खान को पुरस्कार प्रदान कर रहे हैं।

पंकज राज ने ट्वीट किया, ‘आमिर खान की पत्नी पत्नी शायद…अब भारत में पहले से कहीं ज्यादा सुरक्षित अनुभव कर रही होंगी।’ बता दें कि 2015 में इंडियन एक्सप्रेस के एक कार्यक्रम मे आमिर ने असहिष्णुता के मुद्दे पर देश में डर का माहौल बताते हुए कहा था कि एक बार उनकी पत्नी किरण राव ने उनसे देश छोड़ने की बात कही थी। जिसे लेकर आमिर खान को भारी विरोध झेलना पड़ा था।

Also Read:  GST के ब्रांड एंबेसडर पद से अलग होने की सलाह पर अमिताभ बच्चन ने कांग्रेस को दिया जवाब

दरअसल, सोमवार को आमिर खान, क्रिकेटर कपिल देव और अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री वैजयंती माला को भारत रत्न लता मंगेशकर के परिवार द्वारा संचालित 75वें मास्टर दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसमें खास बात यह था कि मुंबई में यह पुरस्कार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने प्रदान किया।

फोटो: The Indian Express

आमिर को यह पुरस्कार उनकी फिल्म ‘दंगल’ के लिए दिया गया। ‘दंगल’ फिल्म हरियाणा के एक कुश्ती खिलाड़ी महावीर सिंह फोगाट और उनकी बेटी गीता व बबीता फोगाट के संघर्ष की कहानी है। वहीं, दिग्गज क्रिकेटर कपिल देव को क्रिकेट जगत में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए इस विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Also Read:  आर्मी की जीप पर बंधे शख्स के मामले में सेना के खिलाफ FIR दर्ज, गृह मंत्रालय पहले ही दे चुका है जांच के आदेश

आमिर और कपिल देव के साथ ही मशहूर अभिनेत्री वैजयंती माला को हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में उनकी विशेष उपलब्धि के लिए सम्मानित किया गया। बता दें कि आमिर खान अंतिम बार किसी फिल्म समारोह में 2002 में नजर आए थे, जब उनकी फ़िल्म ‘लगान’ को सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्मों की श्रेणी में ऑस्कर नामांकन मिला था।

मास्टर दीनानाथ प्रतिष्ठान और हृदयेश आर्ट्स की तरफ से दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड हर वर्ष मास्टर दीनानाथ मंगेशकर के सम्मान में अलग-अलग क्षेत्रों में बेहतरीन काम करने वालों को प्रदान किया जाता हैं। जिसमें संगीत क्षेत्र, समाज सेवा, नाटक, साहित्य और सिनेमा के क्षेत्र से जुड़े लोग शामिल होते हैं।

पढ़ें, सोशल मीडिया पर लोगों ने कैसे मजे लिए:-

 

Also Read:  वेंकैया नायडू ने मंत्रीपद से दिया इस्तीफा, स्मृति ईरानी को मिला सूचना और प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here