यूपी इलेक्शन: आम आदमी पार्टी नहीं लड़ेगी चुनाव लेकिन बीजेपी के खिलाफ उतरेगी प्रचार में

0

आम आदमी पार्टी पंजाब और गोवा में पूरे दमखम से विधानसभा चुनाव लड़ रही है, लेकिन उत्तर प्रदेश में भी वह अपनी भूमिका बढ़ा रही है।

पार्टी भले ही यूपी चुनाव नहीं लड़ रही, लेकिन वह यहां बीजेपी को हराने के लिए प्रचार करेगी। पंजाब और गोवा में 4 फरवरी को वोटिंग होनी है, जबकि यूपी में वोटिंग की शुरुआत 11 फरवरी से हो रही है।

पंजाब और गोवा चुनाव बीतने के बाद आम आदमी पार्टी के सभी बड़े नेता और स्टार प्रचारक यूपी में बीजेपी के खिलाफ चुनाव प्रचार में उतरेंगे।

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा, ‘बीजेपी ने देश को धोखा दिया है और राष्ट्रीय राजनीति में बीजेपी सबसे बड़ी बुराई है। हम उसका भंडाफोड़ करेंगे।’

AAP के बड़े नेताओं के दौरे के कार्यक्रम को जल्द ही आखिरी रूप दिया जाएगा और करीब सभी बड़े नेता यूपी चुनाव प्रचार में उतरेंगे। AAP प्रवक्ता के मुताबिक आम आदमी पार्टी यूपी के लोगों को बीजेपी का असली चेहरा दिखाएगी और यह बताएगी कि अगर बीजेपी यूपी में सत्ता में आई तो यह सूबे के लिए कितना बुरा हो सकता है।

माहेश्वरी ने बताया कि AAP नेताओं के दौरे से जुड़ा विस्तृत कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी बीजेपी के ‘गलत कामों’ को सामने तो लाएगी लेकिन किसी पार्टी के लिए वोट नहीं मांगेगी। दरअसल बीजेपी यूपी चुनाव में नोटबंदी को बड़ा मुद्दा बना रही है जबकि आम आदमी पार्टी इसे देश का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला बता रही है।

भाषा की खबर के अनुसार, महेश्वरी ने बताया कि यूपी चुनाव में पार्टी एक अलग तरह की राजनीति का प्रदर्शन करेगी जहां एक पार्टी अपनी ऊर्जा और अपने संसाधनों का इस्तेमाल सीटों के मामले में बिना किसी फायदे के करेगी। उन्होंने कहा कि इससे यह सुनिश्चित होगा कि यूपी के लोग गलत फैसले नहीं लेगे क्योंकि इसका असर राष्ट्रीय राजनीति पर भी पड़ेगा।

अगले दो साल में लोकसभा का भी चुनाव होगा। महेश्वरी ने कहा कि हम लोगों को सावधान करेंगे कि कैसे राष्ट्रीय स्तर पर नाकाम साबित हो चुकी कोई पार्टी राजनीतिक रूप से अहम राज्य में अच्छा विकल्प साबित हो सकती है।

AAP प्रवक्ता ने कहा, ‘AAP पंजाब और गोवा में चुनाव मैदान में है जहां 4 फरवरी को वोटिंग है। यूपी में सात चरणों का चुनाव 11 फरवरी से शुरू हो रहा है जो 8 मार्च को खत्म होगा। AAP नेताओं के पास यूपी में प्रचार के लिए पर्याप्त समय होगा।’

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here