गुजरात: लॉकडाउन के बीच सूरत में पुलिस से भिड़े प्रवासी मजदूर, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

0

कोरोना महामारी को रोकने के लिए तीसरी बार बढ़ाए गए लॉकडाउन बीच गुजरात के सूरत में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों ने सोमवार को सड़क पर उतरकर जमकर हंगामा किया। देखते-देखते माहौल तनावपूर्ण हो गया और मजदूरों ने पुलिस पर पत्थरबाजी की, जिसके बाद मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल ने मोर्चा संभालते हुए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े।

समाचार एजेंसी ANI ने घटना से जुड़ा एक वीडियो भी शेयर किया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। बताया गया कि गुजरात के सूरत में लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूर अपने-अपने घरों को वापस जाने की मांग कर रहे थे। मजदूर अपनी घर वापसी के लिए विशेष ट्रेनें चलाने की मांग कर रहे थे। इसी दौरान उनकी पुलिस से झड़प हो गई।

आक्रोशित प्रवासी मजदूरों ने पुलिस पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। इसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने लाठियां भांजकर उपद्रवियों को खदेड़ना शुरू कर दिया। घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। हालांकि, कुछ समय के बाद इलाके में तनाव की स्थिति पर काबू में पा लिया गया है। अभी भी इलाके में भारी तादाद में पुलिस मौजूद है।

ख़बरों के मुताबिक सूरत में एक प्रवासी मजदूर ने कहा कि, “बिहार का रहने वाला हूं, यहां मील में काम करता हूं। अभी तक हमें मार्च की सैलरी भी नहीं मिली है। खाने का ठिकाना नहीं है, सरकार ने कोई सुविधा नहीं दी है। पुलिस वाला आता है, मारता है, डराता है और जाता है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here