कोरोना वायरस: दिल्ली मेट्रो में नियमों की धज्जियां उड़ाने पर 92 यात्रियों से वसूला गया जुर्माना

0

दिल्ली मेट्रो की सेवा सभी यात्रियों के लिए शुरू हो गई हैं, लेकिन लोगों द्वारा मेट्रो के सफर में नियमों का पालन करना आवश्यक है। मेट्रो के अंदर लापरवाही करने वालों पर सख्त कार्रवाई भी की जा रही है। इसी क्रम में शुक्रवार को सभी लाइनों पर फ्लाइंग स्क्वॉड के जरिए जांच अभियान चलाया गया। इस अभियान के तहत मेट्रो के अंदर ये देखा गया है कि यात्रियों द्वारा मेट्रो में नियमों का पालन किया जा रहा या नहीं।

दिल्ली मेट्रो
फोटो: सोशल मीडिया

हालांकि, फ्लाइंग स्क्वॉड के जरिए दिल्ली मेट्रो में नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए 92 यात्रियों को पकड़ा। वहीं, इन सभी यात्रियों से जुर्माना भी वसूला गया। डीएमआरसी के कार्यकारी निदेशक अनुज दयाल ने बताया कि, “150 से ज्यादा यात्रियों को फ्लाइंग स्क्वॉड ने नियमों के बारे में बताया और समझा कर छोड़ दिया।”

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने बताया, “92 यात्रियों से दिल्ली मेट्रो ऑपरेशन ऐंड मैनेजमेंट ऐक्ट की धारा 59 के तहत 200-200 रुपये का जुर्माना वसूला गया। फ्लाइंग स्क्वॉड ने इन सभी लोगों को मेट्रो के अंदर नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए पकड़ा।”

बयान में कहा गया है कि फ्लाइंग स्क्वैड में शामिल लोगों ने ट्रेन के अंदर इन्हें मास्क नहीं पहनने या फिर सोशल डिस्टैंसिंग मेंटेन नहीं करते हुए पकड़ा और उन पर जुर्माना लगाया। दरअसल, दिल्ली मेट्रो में यात्रियों को मास्क लगाना और उचित दूरी बनाए रखना आवश्यक है। ऐसा न करने वालों पर दिल्ली मेट्रो की तरफ से सख्त कार्रवाई की जा रही है।

गौरतलब है कि, कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी जैसी वैश्विक आपदा के वक्त भी कुछ लोग लापरवाही बरतने से बाज नहीं आते हैं। कोरोना काल में मेट्रो सर्विस फिर से शुरू करने से पहले नए नियमों का जोर-शोर से प्रचार किया गया। केंद्र और राज्य की सरकारों के अलावा मेट्रो सर्विस देने वाली कंपनियों ने भी यात्रियों से मास्क पहनने और सोशल डिस्टैंसिंग जैसे नियमों के कड़ाई से पालन को लेकर काफी जागरूक किया। लेकिन कुछ लोगों को इससे भला क्या फर्क पड़ने वाला। वो नियमों की धज्जियां उड़ाकर अपनी और दूसरों की सेहत खतरे में डाल रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here