टाइम मैगजीन के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में शामिल हुईं शाहीन बाग में CAA के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन का चेहरा रही 82 वर्षीय ‘दादी’ बिलकिस, पीएम मोदी ने गलत कारणों की वजह से लिस्ट में बनाई जगह

0

दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित मानी जाने वाली इंटरनेशनल मैगजीन ‘टाइम’ ने इस साल दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों की सूची जारी कर दी है। टाइम मैगजीन की इस साल की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में ‘शाहीन बाग की दादी’ के नाम से मशहूर 82 वर्षीय बुजुर्ग महिला बिलकिस भी शामिल है। बता दें कि, 82 साल की बिलकिस दिल्‍ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ हुए विरोध-प्रदर्शन का चेहरा रही हैं।

टाइम मैगजीन

टाइम मैगजीन की लिस्‍ट में बिलकिस को ‘आइकन’ कैटेगरी में जगह दी गई है। दुनिया की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों में टाइम ने भारत के पांच लोगों को जगह दी है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, शाहीन बाग में CAA के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन का चेहरा रही 82 वर्षीय बिलकिस, बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता आयुष्मान खुराना, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई (जो भारतीय हैं) और लंदन में रहने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर रवींद्र गुप्ता शामिल हैं। टाइम मैगजीन की लिस्‍ट में पीएम मोदी शामिल तो है, लेकिन गलत कारणों की वज़ह है।

बता दें कि, 82 वर्षीय बिलकिस उन हजारों प्रदर्शनकर्ताओं में से एक थीं जो दिल्‍ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ महीनों बैठी रहीं। शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम को वापस लेने की मांग को लेकर 101 दिनों तक धरना प्रदर्शन चला था। कोरोना संकट के मद्देनजर प्रदर्शन बंद कर दिया गया था। उनके बारे में पत्रकार राणा अय्युब ने लिखा है कि “बिलकिस को मशहूर होना चाहिए ताकि दुनिया तानाशाही के खिलाफ संघर्ष की ताकत का एहसास करे।”

टाइम मैगजीन की लिस्‍ट में पीएम मोदी भी शामिल, लेकिन गलत कारणों की वज़ह है

टाइम मैगजीन ने पीएम मोदी के बारे में लिखते हुए कहा कि, उनके शासनकाल में लगता ही नहीं कि भारत में हिन्दुओं के अलावा दूसरे धर्मों के लिए कोई जगह हैं। जब से मोदी प्रधानमंत्री बने है उनकी पार्टी भाजपा ने मुस्लमानों को प्रताड़ित करने का काम किया है।

मोदी के बारे में लिखते हुए पत्रकार कार्ल विक ने कहा कि, कोरोना महामारी की आड़ में सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करने वालों को निशाना बनाकर दबाने की कोशिश की गई और इस तरह से दुनिया के सबसे जीवंत लोकतंत्र पर सवालिया निशान खड़े हो गए है।

आयुष्मान खुराना भी लिस्ट में शामिल

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता आयुष्मान खुराना ने भी प्रतिष्ठित सूची में अपना नाम पाया। TIME ने उनके बारे में लिखा, “भारत में, 1.3 बिलियन से अधिक की आबादी के साथ, केवल कुछ ही प्रतिशत लोग अपने सपनों को जीवित देखते हैं, और आयुष्मान खुराना उनमें से एक है।” आयुष्मान खुराना ‘अंधाधुन’ और ‘बधाई हो’ जैसी सुपरहिट फिल्में कर चुके हैं। आयुष्मान इकलौते इंडियन अभिनेता हैं, जिन्हें साल 2020 की इस लिस्ट में जगह मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here