झारखंड: दो महिलाओं समेत चार आदिवासियों की पीट-पीटकर हत्या के मामले में 8 लोग गिरफ्तार

0

झारखंड के गुमला जिले में जादू-टोना के संदेह में चार आदिवासियों की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या के मामले में आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में 16 संदिग्धों की पहचान कर ली गई है।

झारखंड

एक बयान के अनुसार गिरफ्तार किये गए लोग उन लोगों में शामिल हैं जिन्होंने शनिवार और रविवार की दरम्यानी रात नगर-सिसकारी गांव में चार बुजुर्गों को कथित तौर पर उनके घरों से घसीटकर बाहर निकाला था और डंडों से पिटाई की थी, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी। मृतकों में दो महिलाएं शामिल हैं। उन्होंने कहा कि खून में सने डंडों को भी जब्त कर लिया गया है। संदेह है कि इन्हीं डंडों से उन चारों की पिटाई की गई थी।

शनिवार को गुमला में जादू-टोना के शक 4 लोगों की बुरी तरह से पिटाई की गई और उसके बाद गला काटकर उनकी हत्‍या कर दी गई। हत्‍या की यह घटना सिसकारी गांव की है। गुमला के एसपी अंजनी कुमार झा ने बताया, ‘प्रथम दृष्‍टया यह पता चला है कि पीड़‍ित लोग जादू-टोना करते थे। ऐसा लग रहा है कि अंधविश्‍वास में आकर इस हत्‍याकांड को अंजाम दिया गया है। मामले की जांच जारी है।’

आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता और जादू-टोना रोधी अधिनियम 2001 के तहत मामला दर्ज किया गया है। जिला पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा ने कहा कि मृतकों की पहचान सुना उरांव (65), चंपा उराइन (79), फागुनी देवी (60) और पिरी उराइन (74) के रूप में हुई है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here