देश में लगातार घट रहा रोजगार, 2050 तक समाप्त हो सकते हैं 70 लाख जॉब : अध्ययन

0

पिछले चार साल के दौरान प्रतिदिन 550 नौकरियां ‘गायब’ हुई हैं और यदि यही रुख जारी रहा तो 2050 तक देश में 70 लाख रोजगार समाप्त हो जाएंगे. एक अध्ययन में यह दावा किया गया है।

दिल्ली के सिविल सोसायटी समूह प्रहार के अध्ययन में कहा गया है कि देश में आज किसान, छोटे रिटेलर्स, ठेका श्रमिका तथा निर्माण श्रमिक अपनी आजीविका पर ऐसे खतरे का सामना कर रहे हैं जो उन्हें पहले देखने को नहीं मिला है।

Also Read:  Denied visa by India, Pakistani author releases book on Skype
Congress advt 2
janta ka reporter
janta ka reporter

समूह ने बयान में कहा कि श्रम ब्यूरो के 2016 के शुरू में जारी आंकड़ों के अनुसार 2015 में देश में सिर्फ 1.35 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ. 2013 में 4.19 लाख तथा 2011 में 9 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ था। बयान में कहा गया है कि इन आंकड़ों का गहराई से विश्लेषण से और बुरी तस्वीर सामने आती है।

Also Read:  'Disgraceful how India is treating Nepal'

भाषा की खबर के अनुसार, रोजगार बढ़ने के बजाय देश में प्रतिदिन 550 रोजगार के अवसर समाप्त हो रहे हैं. इसका मतलब है कि 2050 तक देश में 70 लाख रोजगार समाप्त हो जाएंगे. वहीं इस दौरान देश की आबादी 60 करोड़ बढ़ चुकी होगी. रिपोर्ट में कहा गया है कि आंकड़ों से स्पष्ट पता चलता है कि देश में रोजगार सृजन लगातार घट रहा है, जो काफी चिंता की बात है।

Also Read:  फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी करने वाले अखाड़ा परिषद के महंत लापता, संतों ने आंदोलन की दी चेतावनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here