CAA विरोधी प्रदर्शनों में भाग लेने पर 5 विदेशी नागरिकों को मोदी सरकार ने सुनाया देश छोड़ने का फरमान

0

सरकार ने मंगलवार (तीन मार्च) को लोकसभा में बताया कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) विरोधी प्रदर्शनों में भाग लेकर वीजा नियमों का उल्लंघन करने वाले पांच विदेशी नागरिकों को भारत छोड़ने के लिए कहा गया है।

बिजनौर
फाइल फोटो: सोशल मीडिया

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, निचले सदन में पी के कुन्हालीकुट्टी और उत्तर कुमार रेड्डी के प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा, ‘‘किसी कानून के विरूद्ध प्रदर्शनों से संबंधित केंद्रीयकृत आंकड़े नहीं रखे जाते हैं। आव्रजन ब्यूरो (बीओआई) द्वारा दी गई सूचना के अनुसार, सीएए विरोधी प्रदर्शनों में भाग लेकर वीजा नियमों का उल्लंघन करने वाले पांच विदेशी नागरिकों को भारत छोड़ने के लिए कहा गया है।’’

उन्होंने कहा कि भारत के संविधान की सातवीं अनुसूची के अनुसार ‘लोक व्यवस्था’ और पुलिस’ राज्य के विषय हैं। संबंधित राज्य सरकार, राज्य में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने एवं कानून तोड़ने वाले लोगों के विरूद्ध कार्रवाई करने के लिये उत्तरदायी है।’’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों में कानून और व्यवस्था की स्थिति की निगरानी करती है और कानून एवं व्यवस्था की बड़ी समस्या पैदा होने की स्थिति में राज्य सरकारों के अनुरोध पर केंद्रीय सशस्त्र बलों की तैनाती करके राज्य सरकारों की सहायता करती है।

गौरतलब है कि, नागरिकता संशोधन कानून का कांग्रेस, टीएमसी समेत लगभग सभी विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं। दिल्ली, यूपी, पश्चिम बंगाल, बिहार, असम में इस ऐक्ट के विरोध में जोरदार प्रदर्शन हुए थे। देश की कई हिस्सों में लोग इसका विरोध करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली में भी हिंसक प्रदर्शन हुए थे। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here