उत्तर प्रदेश में तेज आंधी-तूफान ने ली 45 लोगों की जान, 38 घायल

0

उत्तर प्रदेश में बुधवार(2 मई) की रात आयी तेज आंधी-पानी के कारण हुए हादसों में करीब 45 लोगों की मौत हो गयी तथा 38 अन्य घायल हो गये।

file photo- Hindustan

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदेश के राहत आयुक्त संजय कुमार ने आज लखनऊ में बताया कि कल रात सूबे में आयी तेज आंधी-तूफान, बिजली गिरने और ओलावृष्टि के कारण हुए हादसों में 45 लोगों की मौत हो गयी।उन्होंने बताया कि सबसे ज्यादा जनहानि आगरा जिले में हुई जहां 36 लोगों की मौत हो गयी। इसके अलावा 35 अन्य जख्मी हो गये। जिले में इस प्राकृतिक आपदा से 150 जानवरों की भी मौत हुई है। जबर्दस्त आंधी-तूफान की वजह से अनेक मकान ध्वस्त हो गये और बिजली के खम्बे उखड़ गये।

कुमार ने आगे बताया कि बिजनौर में तीन, सहारनपुर में दो और बरेली, चित्रकूट, रायबरेली तथा उन्नाव में एक-एक व्यक्ति की भी मौत हुई है। पूरे प्रदेश में कुल 38 लोग घायल हुए हैं। राहत आयुक्त ने बताया कि उन्होंने सभी प्रभावित जनपदों के जिलाधिकारियों को इस प्राकृतिक आपदा की वजह से हुए नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट भेजने और प्रभावित लोगों को 24 घंटे के अंदर राहत वितरित करने के निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों को आंधी-तूफान तथा बारिश से प्रभावित लोगों को तत्काल राहत पहुंचाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित जिलाधिकारी नुकसान का आकलन करते हुए प्रभावितों को बिना देर किये मुआवजा प्रदान करें। राहत कार्यों में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायगी।

भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक इसी बीच, सूचना विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि मुख्य सचिव राजीव कुमार ने आगरा के मण्डलायुक्त से बात करके उन्हें आज शाम तक पीड़ितों को सहायता दिलाने और घायलों का हाल लेने के लिये वरिष्ठ अधिकारियों को अस्पताल भेजने के निर्देश दिये हैं।

इस बीच, बड़े पैमाने पर मौतों से अप्रभावित उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पार्टी के लिए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में लगे हुए है। बता दें कि, पार्टी ने उन्हें कर्नाटक विधानसभा चुनाव के प्रचार के रुप में चुना हुआ है। आदित्यनाथ बीजेपी के स्टार प्रचारक हैं, जो उनकी पार्टी को हिंदुत्व के रूप में पेश कर रही हैं। आदित्यनाथ गुरुवार को सिरी, सागर, बलहोनुरु, बेलूर और होनानाली में सार्वजनिक रैली को संबोधित करने वाले है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, राजस्थान में बुधवार को आई आंधी और तूफ़ान ने काफ़ी नुकसान पहुंचाया है। 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से चली हवाओं की वजह से राज्य के अलग-अलग हिस्सों में 27 लोगों की मौत हो गई है। तेज़ हवा की वजह से कई जगह पेड़ उखड़ कर गिर गए, जिससे बिजली के खंभों को नुक़सान पहुंचा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here