दिल्ली के मंडावली इलाके में भूख से तीन बहनों की मौत, केजरीवाल सरकार ने दिए जांच के आदेश

0

देश की राजधानी दिल्ली के मंडावली इलाके में एक ही परिवार की तीन सगी बहनों की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई। शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के हिसाब से इन बच्चियों की मौत भुखमरी और कुपोषण से हुई है। मामला चर्चा में आते ही दिल्ली सरकार ने मजिस्ट्रेट जांच का आदेश दे दिए है।

फाइल फोटो

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार की दोपहर पड़ोसी जब उनके घर पहुंचे तो लड़कियां बेहोश पड़ी हुई थीं, जबकि घर में मौजूद उनकी मां को इसकी कोई जानकारी नहीं थी। पड़ोसी के सहयोग से उन्हें किसी तरह लालबहादुर शास्त्री अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मरने वाली बच्चियों की पहचान शिखा (8) मानसी (4) और 2 साल की पारुल के रूप में हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चियों का पिता भी मंगलवार की सुबह से लापता बताए जा रहें है। बताया जा रहा है कि आर्थिक तंगी की वजह से वह घर से काम ढूंढने के लिए निकला था। जबकि मां मानसिक रूप से विक्षिप्त बताई जा रही है। घटना की जानकारी मिलने पर अस्पताल पहुंची पुलिस ने तीनों लड़कियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि तीनों बच्चियों के पेट बिल्कुल खाली थे। शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान भी नहीं पाए गए हैं। डॉक्टरों ने आशंका जताई है कि तीनों बच्चों की मौत की वजह कुपोषण और भुखमरी हो सकती है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस का कहना है कि अब वह बच्चियों का दुबारा पोस्टमार्टम कराएगी। पूर्वी दिल्ली के डीसीपी पंकज कुमार ने बताया कि ‘इसमें हमने मेडिकल बोर्ड के लिए रिक्वेस्ट किया है, जिससे दुबारा हम सही कारण पता लगा पाएं।’

बच्चियों की मौत से हैरान आसपास के लोगों का कहना है कि उनकी मां मानसिक रूप से बीमार है। घटना के बाद से उसका रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस मृतक बच्चियों के पिता की तलाश कर रही है, जो सुबह से लापता है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही है और हम हर पहलू की जांच कर रहे हैं।

इस मामले में दिल्ली सरकार ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं। यह जानकारी दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करके दी है।

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मंडावली में तीन बच्चियों की मौत की घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। यह परिवार दो दिन पहले ही मंडावली में एक मकान में रह रहे किराएदार के यहां मेहमान आया था। घटना के पहले से ही बच्चियों के मजदूर पिता काम पर गए थे जो लौटे नहीं हैं। मां भी पहले से मानसिक बीमार हैं।’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here