तेजस एक्सप्रेस में खाना खाने से 26 यात्री बीमार, अस्पताल में भर्ती

0

यात्रियों सुविधाओं को लेकर बड़े-बड़े दावे करने वाली भारतीय रेल की हालत सुधरती नहीं दिख रही। कम से कम खाने के तो मामले में तो स्थिति बेहद ही खराब है। जी हां, गोवा से मुंबई जा रही तेजस एक्सप्रेस में रविवार(15 अक्टूबर) को रेलवे की जलपान इकाई आईआरसीटीसी का खाना खाने के बाद कम से कम 26 यात्री बीमार पड़ गए। जिनमें तीन यात्रियों की हालत इतनी खराब हो गई कि उन्हें आईसीयू में भर्ती करवाया गया है।

(Express photo by Nirmal Harindran)

इस खबर की पुष्टि करते हुए कोंकण रेलवे के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक संजय गुप्ता ने बताया कि तेजस एक्प्रेस में रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) का खाना खाने के बाद यात्रियों ने अस्वस्थ होने की शिकायत की। उन्होंने बताया कि ट्रेन को चिपुलान स्टेशन पर रोका गया और अस्वस्थ सभी 26 यात्रियों को शहर के लाइफ केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी हालत गंभीर नहीं है।

आईआरसीटीसी के एक अधिकारी के मुताबिक, करीब 290 यात्रियों को नाश्ता दिया गया था। जिनमे से करीब 12 बजे तीन यात्रियों ने तबीयत खराब होने की शिकायत की। कुछ देर बाद और यात्रियों ने ऐसी शिकायतें की। उन्होंने उल्टी और घबराहट होने की बात कही।

यात्रियों के पास वेज और नॉन-वेज फूड चुनने का विकल्प होता है। आईआरसीटीसी अधिकारी ने कहा कि अभी तक यह पता नहीं चला कि फूड पॉइजनिंग वेज फूड से हुई है या नॉन-वेज फूड से। बता दें कि इस ट्रेन में आईआरसीटीसी केटरिंग की सेवा देती है और ट्रेनों में खाना और नाश्ता आईआरसीटीसी के वेंडर परोसते हैं।

बता दें कि तेजस एक्सप्रेस शुरू होने पर इस ट्रेन में केटरिंग सर्विस को लेकर तमाम दावे किए जा रहे थे। पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु के क्षेत्र में चलने वाली इस प्रीमियम ट्रेन में कैटरिंग के लिए खास इंतजाम करने का प्रचार किया जा रहा था। यात्रियों से अच्छा खासा कैटरिंग चार्ज भी लिया जा रहा है। लेकिन अब इस घटना के बाद तमाम दावे की पोल खुल गई है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here