महाराष्ट्र: जानलेवा बने सड़क के गढ्ढे, स्कूटी से घर लौट रही 21 वर्षीय महिला डॉक्टर की गई जान, अगले महीने होने वाली थी शादी

1

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में 21 साल की एक डॉक्टर की एक वाहन से उस समय कट कर मौत हो गई जब गढ्ढे में फिसल कर अपने दो पहिया वाहन के साथ वह सड़क पर गिर पड़ी और एक ट्रक के नीचे आ गई।

महाराष्ट्र
फाइल फोटो:सोशल मीडिया (मृतक, नेहा शेख)

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, सहायक पुलिस निरीक्षक महेश सागड़े ने बताया कि बुधवार देर रात कुडूस गांव की रहने वाली नेहा शेख भिवंडी शहर से अपने घर जा रही थी तभी यह दुर्घटना हुई। मृतक की अगले महीने शादी होने वाली थी। महिला अपने भाई के साथ दोपहिया वाहन पर जा रही थी तभी दुगढ़ दोराहे के पास वाहन गढ्ढे में फिसलने से वह अपना संतुलन खोकर सड़क पर गिर गई। सागड़े ने बताया कि पास से गुजर रहा ट्रक महिला को रौंदते हुए निकल गया। घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया।

उन्होंने कहा कि, भारतीय दंड संहिता की धारा 304-ए (लापरवाही के कारण मौत) के तहत अज्ञात ट्रक चालक पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। बाद में, आदिवासी कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन ‘श्रमजीवी संघटना’ के कई सदस्य दुर्घटनास्थल अनगाँव टोल बूथ पहुंचे और आधी रात को बूथ बंद करवा दिया।

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, संगठन के युवा वर्ग के अध्यक्ष प्रमोद पवार ने दावा किया कि इस साल गड्ढों से भरी सड़क कई लोगों की मोत का करण बन गई। उन्होंने लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) और सड़क निर्माण और रख-रखाव के लिए जिम्मेदार संस्था के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि वे टोल बूथ को काम नहीं करने देंगे और अपनी मांग पूरी होने तक “शांतिपूर्ण आंदोलन” पर बैठे रहेंगे।

1 COMMENT

  1. ये खबरें क्यों छापी जाती हैं ?

    इनसे किसी कोई अंतर पड़ता है क्या – सरकार को, मतदाता को ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here