नरेंद्र मोदी दिल्ली में मिली हार को पचा नहीं पाये हैं और बदले की राजनीति कर रहे हैं : केजरीवाल

1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि वो बदले की राजनीति कर रहे हैं।

समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए केजरीवाल ने आरोप लगाया कि हरियाणा, पंजाब, गुजरात, पश्चिम बंगाल और पूरे देश में संसदीय सचिव हैं लेकिन केंद्र सरकार सिर्फ आम आदमी पार्टी के विधायकों को निशान बना रही है।

उन्होंने कहा, ” हरियाणा, पंजाब, गुजरात, पश्चिम बंगाल और पूरे देश में संसदीय सचिव हैं। पंजाब में उन्हें एक लाख रूपये, कार, बंगला मिलता है। लेकिन उन्हें अयोग्य घोषित नहीं किया गया। तो केवल दिल्ली में क्यों? क्योंकि वह :मोदी: आम आदमी पार्टी से डरे हुए हैं।”
Modi-Kejri

Also Read:  Reva Khetrapal to be Delhi's new Lokayukta

केजरीवाल ने मोदी पर आरोप लगाया कि वह उनकी सरकार को ‘‘चुन, चुन कर निशाना’’ बना रहे हैं क्योंकि भाजपा दिल्ली चुनावों में हार को नहीं ‘‘पचा’’ पा रही है।

Also Read:  कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा ? पोस्टर ने खोला सारा राज

केजरीवाल का ये बयान आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों को लाभ के पद पर आसीन होने के मामले में बचाने से जुड़े दिल्ली विधेयक को राष्ट्रपति द्वारा मंजूरी नहीं देने के बाद आया।

दिल्ली विधानसभा द्वारा पिछले वर्ष पारित विधेयक को मंजूरी देने से राष्ट्रपति ने इंकार कर दिया है जिसमें वर्तमान कानून में संशोधन कर 21 विधायकों को लाभ के पद के दायरे से बाहर रखने का प्रावधान प्रस्तावित है। विधायकों को पिछले वर्ष संसदीय सचिव नियुक्त किया गया था।

Also Read:  मुरादाबाद: सहारनपुर हिंसा के विरोध में दलितों ने CM योगी को दिखाए काले झंडे

भाषा पीटीआई के अनुसार राष्ट्रपति के निर्णय पर सवाल खड़ा करने के लिए केजरीवाल की आलोचना करते हुए भाजपा और कांग्रेस ने कहा कि उनके विधायक कानून से उपर नहीं हैं और उन्हें तुरंत अयोग्य घोषित करने की मांग की क्योंकि यह ‘‘स्पष्ट’’ मामला है।

1 COMMENT

  1. A jackal when tells big stories about flood,people say when it grow so old?His birth is on June but boasting not as new born but old one!¿
    Just born in political arenas see his Boasting ,
    Really a new born trainee ,a too small river at flood time!!!!¡

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here