मध्यप्रदेश: इंदौर में बीच सड़क पर मॉडल से छेड़खानी करने वाले आरोपी गिरफ्तार, जानिए आरोपियों ने अपनी सफाई में क्या कहा?

0

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक मॉडल संग कथित तौर पर छेड़खानी के आरोप में पुलिस ने बुधवार (25 अप्रैल) को दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ख़बर के मुताबिक, कई घंटों तक चली पड़ताल में पुलिस की कई टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी रही। बता दें कि, रविवार को युवती ने कथित छेड़खानी की शिकायत ट्विटर पर राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से की थी, जिसके बाद ऐक्शन में आए मुख्यमंत्री ने आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने का आदेश दिया था।

फोटो- पीड़िता के ट्विटर अकाउंट से लिया गया है

बता दें कि, खुद को मॉडल बाताने वाली एक युवती ने ट्विटर पर अपने पैर में लगी चोट की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि, ‘मैं अपनी स्कूटी से जा रही थी तभी दो बाइक सवार युवकों ने मेरी स्कर्ट खींचने की कोशिश की और कहा कि दिखाओ इसके नीचे क्या है? उन्हें रोकने की कोशिश में मेरी गाड़ी का संतुलन बिगड़ गया और मैं नीचे गिर गई।’ मॉडल के ट्वीट के मुताबिक यह कथित घटना रविवार(22 अप्रैल) की है, जब युवती अपने स्कूटी से शहर की एक व्यस्त सड़क से गुजर रही थी।

मॉडल ने आगे लिखा था कि, ‘यह घटना इंदौर के सबसे व्यस्त सड़क पर हुआ, लेकिन किसी ने भी उन्हें रोकने की कोशिश नहीं की। वो भाग गए और मैं उनकी गाड़ी का नंबर भी नहीं देख सकी। मैंने खुद को कभी इतना असहाय नहीं पाया, मैं उन लड़कियों में से नहीं हूं जो सबकुछ चुपचाप सह जाऊं।’

मॉडल का ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद खुद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मॉडल के ट्वीट को री-ट्वीट किया और इंसाफ दिलाने का भरोसा दिया। जिसके बाद इंदौर पुलिस ने अज्ञात लड़कों के खिलाफ एफआईआर कर जांच शुरू कर दी है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर युवती के ट्वीट को साझा करते हुए लिखा कि ‘यह एक शर्मनाक हरकत है, इनको ढूंढकर जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए। इंदौर कलेक्टर और डीजीपी तुरंत इस मामले में कार्रवाई करें और मुझे इस विषय पर जानकारी दें।’

बता दें कि, बाद में युवती ने ट्विटर पर मीडिया से अनुरोध किया कि उसका नाम गुप्त रखा जाए। पीड़ता ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘मुझे सुबह से कई सारे मीडिया ग्रुप्स द्वारा फोन किया जा रहा है। मैं घटना को हाइलाइट करना चाहती हूं, अपने नाम को नहीं। कृपया मुझे फोन करना बंद करें। मैं एक आम लड़की हूं और मुझे वैसे ही रहने दें।’

दैनक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, 30 घंटे चली पड़ताल में कई टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी रही। युवती द्वारा पहचाने गए सीसीटीवी फुटेज के बाद पुलिस ने सिर्फ बाइक के अधूरे मिले नंबर और लाल सीट कवर के सुराग के आधार पर 2 दर्जन से ज्यादा गाड़ियों का रिकॉड खंगाला। छापेमारी करते हुए परदेशीपुरा के 21 साल के लक्की और लालगली के 22 साल के बंटी को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

हालांकि, दोनों आरोपी छेड़छाड़ से इनकार कर रहे हैं। आरोपियों के मुताबिक उनकी बाइक की रफ्तार ज्यादा थी, जिससे युवती की एक्टिवा लहरा गई और वह गिर गई थी। उसके गिरने के बाद हम लोग वहां से निकल गए।

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि आरोपियों का पुराना आपराधिक रिकाॅर्ड नहीं है। वे कपड़े सिलाई की नौकरी करते हैं। डीआईजी ने बताया कि रातभर 60 से ज्यादा स्थानों के सीसीटीवी खंगालकर संदेही युवकों के फुटेज और फोटो निकाले गए। युवती के बताए समय के आधार पर फुटेज का फोटो से मिलान किया, इनमें से दो को युवती ने पहचाना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here