बिहार: नीतीश कुमार के आह्वान पर बनी मानव श्रृंखला में दो लोगों की मौत, RJD ने साधा निशाना

0

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार की ओर से रविवार को आयोजित एक मानव श्रृंखला में हिस्सा लेने के दौरान एक सरकारी स्कूल शिक्षक एवं एक महिला की मौत हो गई।

बिहार
फोटो: सोशल मीडिया

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदेश के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि मरने वालों में प्रदेश के दरभंगा जिले के 55 वर्षीय सरकारी स्कूल के एक शिक्षक तथा समस्तीपुर जिले की एक महिला शामिल है। मरने वाली महिला की शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है। मुख्य सचिव ने बताया कि दोनों की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है। कुमार ने बताया कि मरने वाले दोनों के परिजनों को अनुग्रह राशि के तौर पर चार चार लाख रुपये दिये जाएंगे। उन्होंने बताया कि इसके अलावा सरकारी उर्दू माध्यम के स्कूल शिक्षक के परिवार के सदस्यों को सभी सुविधायें दी जाएंगी जिसके लिए वह हकदार हैं।

दरभंगा के जिलाधिकारी त्यागराजन एस एम ने बताया कि स्कूल शिक्षक मोहम्मद दाऊद कियोटी थाना क्षेत्र में रनवे चौक के करीब बेहोश होकर गिर गए। दाऊद को एक अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि मृतक को दिल का दौरा पड़ा, हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि क्या वह दिल की बीमारी से पीड़ित थे।

गौरतलब है कि ‘जल जीवन हरियाली’ अभियान के तहत रविवार को बाल विवाह रोकने, नशामुक्ति, पर्यावरण संरक्षण और दहेज प्रथा के खिलाफ हल्ला बोल को लेकर पूरे प्रदेश से रिकॉर्ड 5 करोड़ लोगों ने मानव श्रृंखला बनाई।

शिक्षक की मौत पर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है। आरजेडी ने अपने ट्वीट में लिखा, “नीतीश कुमार की हठधर्मिता और चेहरे चमकाने की सनक ने मानव शृंखला में आज की दूसरी जान ले ली। दरभंगा ज़िले के केवटी निवासी उर्दू शिक्षक मोहम्मद दाऊद सर्दी में खड़े होने से यह दुःखद घटना घटी।”

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here