दो फर्जी मेल आईडी बनाकर स्टूडेंट्स, टीचर और प्रिंसिपल को पॉर्न क्लिप भेजता था 14 वर्षीय छात्र, स्कूल प्रबंधन ने दर्ज कराया केस

0

आज के समय में हर किसा के पास स्मार्टफोन और इंटरनेट मौजूद होता है, जिसके चलते लोगों का ध्यान पॉर्न क्लिप या वेबसाइट पर तेजी से जा रहा है। लेकिन यही स्मार्टफोन और इंटरनेट बचपन व छात्रों को निगलते जा रहे हैं। इस बीच, पुणे के नामी स्कूल से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसे जानकर हर कोई हैरान है। यहां 14 वर्षीय एक छात्र दो फर्जी मेल आईडी बनाकर अपने बैचमेट्स खासकर लड़कियों को अश्लील सामग्री भेजता था। इतना ही नहीं आरोपी छात्र ने कुछ टीचरों और प्रिंसिपल को भी अश्लील वीडियो भेजे थे।

 

पुणे मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, छात्र के खिलाफ पॉड पुलिस स्टेशन में सोमवार को मामला दर्ज किया गया है। घटना 25 अगस्त से 23 सितंबर 2019 के बीच मुलशी के एक स्कूल की है जब टीचर और प्रिसिंपल के अलावा 65 स्टूडेंट्स के मेल पर लगातार पॉर्न कॉन्टेट भेजे गए। धीरे-धीरे पता चला कि स्कूल में कई लोगों के साथ ऐसा हो रहा है। जब मामला स्कूल प्रशासन तक पहुंचा तो जांच शुरू हुई। उस आईपी एड्रेस का पता लगाया गया जिससे ई-मेल अकाउंट बनाए गए और फिर जाकर विदेशी मूल के एक छात्र को ढूंढ निकाला।

उल्लेखनीय है कि, छात्र पढ़ाई में काफी तेज और टेक फ्रेंडली है। उसने अपना जुर्म कबूलते हुए कहा कि उसने यह सब सिर्फ मजे (मनोरंजन) के लिए किया था। उसे यह समझ नहीं थी कि यह एक क्राइम है। उसने बताया कि वह केवल अपने सहपाठियों और शिक्षकों को परेशान करना चाहता था। घटना के सामने आने और छात्र के अपराध कबूलने के बाद उसे स्कूल से निकाल दिया गया, इसके बाद वह अपने देश वापस लौट गया था।

हालांकि, हाल ही में स्कूल प्रबंधन ने केस दर्ज कराने का फैसला किया और मामले को पुलिस के पास लेकर गए। इसके बाद केस साइबर क्राइम तक केस पहुंचा। पुलिस अधीक्षक (पुणे ग्रामीण) संदीप पाटील ने बताया, ‘हमारे पास मामला काफी देर से आया क्योंकि स्कूल प्रबंधन ने ऐक्शन लेने से पहले अपनी जांच की थी। इसके बाद उन्होंने हमसे संपर्क किया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here