उत्तर प्रदेश: कासगंज के बाद अब अमेठी में दो गुटों के बीच झड़प, एक की मौत, 5 घायल

0

उत्तर प्रदेश के कासगंज में गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) के दिन हुई सांप्रदायिक हिंसा का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि अब अमेठी में दो गुटों के बीच आपस में भिड़ंत हो गई है।

फोटो- ANI

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, अमेठी में दो गुटों के बीच हुई इस भिड़ंत में एक व्यक्ति की मौत हो गई है तो वहीं पांच घायल हुए हैं। घायलों को इलाज लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया है। जिला अधिकारी व पुलिस कप्तान सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच कर स्थिति को नियंत्रित करने में जुट गए हैं।

ख़बरों के मुताबिक, इस घटना के पीछे दो पक्षों में पुराना विवाद बताया जा रहा है। घटनास्थल पर पुलिस के अधिकारी मामले की जांच कर रहे है।

हिन्दुस्तान.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, दोपहर में बड़े गांव निवासी अशफाक पुत्र अंसार किसी काम से अपनी सफारी कार से कस्बा आया था। वह अपने साथियों के साथ विजया बैंक के पास रुका ही था कि बाइक सवार दो बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जिसमें गोली लगने से अशफाक की मौके पर ही मौत हो गयी। दो पक्षों के बीच गोली चलने की घटना से कस्बे में दहशत फैल गई। व्यापारियों ने अपनी दुकानों के शटर गिरा दिए। मामला दो समुदायों के बीच का होने के कारण स्थिति तनावपूर्ण हो गई।

हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना की सूचना पर सीएचसी में हजारों की भीड़ उमड़ पड़ी। सीएससी के सामने पथराव की घटना भी हुई। इसकी सूचना पाकर जगदीशपुर में कई थानों की पुलिस तैनात कर दी गई। डीएम शकुंतला गौतम, पुलिस कप्तान, एसडीएम अभय कुमार पांडेय सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे।

हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, तनावपूर्ण स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कस्बे में धारा 144 लागू कर दी गयी है। कस्बा बाजार से जाने वाले वाहनों का रूट डायवर्जन भी किया गया है। दो समुदाय के बीच फायरिंग के कारण दहशत बस व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर दी। पुलिस कप्तान ने थानाध्यक्ष जेपी पांडे को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कस्बे में पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है।

बता दें कि, कासगंज में हुई सांप्रादायिक हिंसा के बाद अब अमेठी में हुई इस हिंसक भिड़ंत ने सरकार के सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवाल खड़े करती है। कासगंज में हुई हिंसा में 22 वर्षीय चंदन गुप्ता नाम के युवक की जान चली गई थी, वहीं अकरम नाम के एक युवक की एक आंख फोड़ दी गई थी। कासगंज में अभी भी हालात तनावपूर्ण हैं।

इलाके से अभी भी छिटपुट हिंसक घटनाएं होने की सूचना है। शहर में बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया है। त्वरित कार्रवाई बल (आरएएफ) और पीएसी के जवान स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। अफवाहें फैलाने वालों और उपद्रवियों को लेकर प्रशासन पूरी तरह सतर्क है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here