हरेक बच्चे को मिले मुफ्त व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा : मलाला यूसुफजई

0

नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्त पाकिस्तान की शिक्षा कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में हिस्सा ले रहे दुनियाभर के नेताओं से आग्रह किया कि वे हरेक बच्चे के लिए सुरक्षित, मुफ्त और गुणवत्तापूर्ण प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा के अधिकार का वादा करें।

समाचार एजेंसी जिन्हुआ के अनुसार, मलाला ने यह टिप्पणी संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में कही। वहां संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों के 193 युवा प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Also Read:  J&K: पाकिस्तान सेना की फायरिंग में नायक मुदस्सर अहमद शहीद, मासूम बच्ची की भी मौत

मलाला ने कहा, “आज हम 193 युवा लोग खरबों युवाओं का यहां प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। सभी के हाथों में मौजूद प्रत्येक लालटेन आपके द्वारा बनाए गए वैश्विक लक्ष्यों से हमें हमारे भविष्य की आशा दर्शा रही है।”
मलाला ने पहली बार 12 जुलाई, 2013 को संयुक्त राष्ट्र महासभा का दौरा किया था और सी दिन उनका 16वां जन्मदिन था। इस तिथि को अब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मलाला दिवस के रूप में मनाया जाता है।
यूसुफजई ने कहा, “मैं आशावादी हूं कि संयुक्त राष्ट्र में शामिल हम सब शिक्षा और शांति के लक्ष्यों के लिए एकजुट होंगे और इस विश्व को न सिर्फ एक बेहतर स्थान बनाएंगे, बल्कि शिक्षा, शांति तथा जीवन के लिए बेहतरीन स्थल बनाएंगे।”

Also Read:  करगिल शहीद की बेटी को घमकी देने वालों के गैंग में शामिल हो गए हैं मोदी के मंत्री: कांग्रेस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here