हजारों करोड़ कालाधन का खुलासा करने वाला गुजरात का कारोबारी फ़रार

0

अहमदाबाद के व्यवसायी जिसने अक्टूबर में 13,860 करोड़ रुपये काले धन की घोषणा की थी वो अब फरार हो गया है आयकर विभाग महेश शाह की तलाशी में लगी है।

महेश शाह अहमदाबाद के कारोबारी हैं इन्होंने केन्द्र सरकार की महात्वाकांक्षी काला धन को टैक्स देकर सफेद करने की वीडीआईएस योजना में 13,860 करोड़ रुपये कैश होने की घोषणा की थी। केंद्र सरकार की आय की स्वैच्छिक घोषणा योजना (आईडीएस) के तहत 13,860 करोड़ रुपए घोषित किए थे। 45 साल के शाह 30 नवंबर के पहले से लापता हैं।

mahesh-shah_650x400_61480735425

एनडीटीवी की खबर के अनुसार, शाह को चार किश्तों में 45 प्रतिशत टैक्स भरना था। 30 नवम्बर से पहले इन्हें इसका पहला 25 प्रतिशत यानी 1560 करोड़ रुपये जमा करना था। आयकर विभाग की लगातार शाह की तलाश कर रहा है।

क्योंकि वो घोषित 13,860 करोड़ रुपए पर टैक्स देना भूल गए थे। केंद्र सरकार की इस योजना के तहत 30 सितंबर तक सरकार को 45 प्रतिशत टैक्स देकर अघोषित आय घोषित की जा सकती थी। इस योजना के तहत अघोषित आय पर टैक्स चुकाने के बाद आय की स्वैच्छिक करने वाले पर आयकर विभाग की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं होनी थी।

महेश शाह के बेटे मोनीतेश शाह का कहना है कि उनके पिता फरार नहीं हैं। कहीं गये होंगे, वापस आ जायेंगे तब सभी बातें साफ कर देंगे। लेकिन फिलहाल उनकी उनसे पिछले एक सप्ताह से बात नहीं हुई है।

 

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here