भारत में शिक्षा के साथ मिलता है संस्कार : राजनाथ

0
>

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि शिक्षा का उद्देश्य सिर्फ ज्ञान प्राप्त करना ही नहीं है वरन संस्कार से भरा समाज बनाना भी है। शिक्षा और संस्कार का रिश्ता टूटा तो यह विध्वंसक हो जाएाा। उदय प्रताप स्वायत्त शासी पीजी कॉलेज के 106वें स्थापना दिवस के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि गृहमंत्री छात्रांे और अध्यापकों को सम्बोधित कर रहे थे।

Also Read:  स्वच्छ भारत के नाम पर क्या जायज है हिंसा? गुंडों ने बुजुर्ग की पिटाई कर उठवाया मल

इस मौके पर कालेज की सराहना करते हुए राजनाथ ने कहा कि छात्रांे को शिक्षा से ज्ञान के साथ संस्कार मिलता है। उसका उद्देश्य ही समाज को संस्कारवान बनाना है। भारत को जगतगुरु बनाना है। इसके लिए नालेज पावर और ट्रांसपरेन्सी हमारे देश में मौजूद है।

Also Read:  अरनब गोस्वामी के नए चैनल को ट्विटर यूर्जस ने कहा 'भक्त रिपब्लिक'

समारोह की अध्यक्षता उदय प्रताप शिक्षा समिति के अध्यक्ष और पूर्व चीफ जस्टिस केएन सिंह ने किया। इसके पूर्व राजनाथ सिंह का काफिला एयरपोर्ट से सीधे कॉलेज पहुंचा। यहां छात्रों ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया।

Also Read:  भारत के खिलाफ मैच खेलने की ‘भीख’ नहीं मांग रहे, लेकिन सिरीज के लिए जोर देना हमारा अधिकार: पीसीबी

इस अवसर पर कालेज के एनसीसी की टुकड़ी ने उन्हें सलामी दी। इस दौरान पूरा परिसर पुलिस छावनी में तब्दील रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here